योगीराज : बस्ती में गुंडों ने युवको पर की फायरिंग, अभी तक नहीं हुए गिरफ्तार

अफाक मंसूरी /लखनऊ | यूपी में योगी सरकार का निजाम अब अपराधियों की शरणगाह बनता जा रहा है | बस्ती में गुंडों ने दो युवको पर मामूली से विवाद में अंधाधुंध फायरिंग कर दी और फरार हो गए | एक यवक गंभीर घायल है जिसकी हालत नाजुक बनी हुयी है | पुलिस अभी तक हमलावरों को गिरफ्तार नहीं कर पाई है |

गत दिनांक 30-10-2017 उत्तर प्रदेश के जिला बस्ती में अपराधियों के हौसले बुलंद है उनको कानून व्यवस्था और पुलिस प्रसाशन किसी का कोई भय नही है इसी के चलते कल रात तकरीबन 9 बजे तीन अपराधिक छवि के लड़को ने जिसमे प्रिंस, अखिलेश उर्फ़ अक्खी व दानिश नाम के युवक शामिल हैं तीनो ने सैफ व समद नाम के दो सगे भाइयों पर मामूली बात को लेकर गोलियों की बौछार कर दी और फायरिंग करने के बाद हवा में हथियार लहराते हुए फरार हो गए | इस घटना से क्षेत्र में भय और आक्रोश का माहोल है, गंभीर रूप से घायल 20 वर्षीय सैफ ए पी एन पीजी कालेज में बी. काम अंतिम वर्ष का छात्र है और 22 वर्षीय समद मोटर मकैनिक का काम करता है दोनों भाई कल रात एक होटल पर चाय पी रहे थे तभी उनके ऊपर ये हमला हुआ सैफ के दोनों पैरों में गोली लगी है और वो गंभीर रूप से घायल है समद के पैरों में छर्रे लगे हैं वो भी घायल अवस्था में है दोनों भाइयों का जिला सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है |

आश्चर्य की बात तो ये है कि घटना के काफी वक़्त बीत जाने के बाद भी अभी तक किसी भी अपराधी की कोई गिरफ़्तारी नही हुई है ये हाल तब है जब राज्य सरकार की तरफ से क़ानून व्यवस्था को ठीक रखने के लिए भरसक प्रयास किये जा रहें हैं पीड़ित परिवार व क्षेत्रीय जनता प्रशासन से मांग करती है कि अपराधियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करके उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाय ताकि जनता में क़ानून के प्रति भरोसा कायम रहे |