योगी राज में शरारती तत्वों से परेशान शिक्षकाओं ने जताया विरोध, रोड पर लगाई क्लास

उत्तर प्रदेश :प्राथमिक विद्यालय अकबरपुरा व गुदड़ी के गेट, ब्लैक बोर्ड व ताले पर शरारती तत्व आये दिन मल पोत जाते हैं। इस करतूत से परेशान शिक्षिकाओं ने विरोध का नया तरीका अपनाते हुए सोमवार सुबह स्कूल परिसर से बाहर बीच रोड पर क्लास शुरू कर दी। छात्र-छात्राओं ने अपनी शिक्षकाओं के इस कदम का बखूबी साथ दिया। वे भी घरों से बोरी लाकर रोड पर पढ़ने लगे। जिससे रोड पर यातायात बंद हो गया। स्कूल की प्रधान अध्यापिकाओं ने बीएसए को मामले से अवगत कराया है। नगर कोतवाली में तहरीर दी है। जिस पर नगर पालिका के स्वीपर ने सफाई की है। करीब तीन घन्टे बाद बच्चे गेट पार कर अपनी क्लास में पहुंचे है, तब पढाई शुरू हो सकी है।

शहर के नगर कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत स्टील गंज तालाब के पास अकबरपुरा व गुदड़ी मोहल्ले का प्राथमिक विद्यालय एक ही परिसर में संचालित है। रोजाना की तरह सोमवार सुबह नौ बजे करीब 40 बच्चे व शिक्षिकाएं स्कूल पहुंची। लेकिन स्कूल गेट व ताले पर मलबा पोत दिया गया था। यह देख सभी भड़क उठे। अकबरपुरा की प्रधान अध्यापिका रंजना रस्तोगी व गुदड़ी की नीलम ने शिक्षामित्र नीतू बाल्मीकि, पूनम गोस्वामी व अन्य शिक्षिकाओं के साथ राय मशविरा कर गेट के बाहर रोड पर क्लास शुरू कर दी। बच्चे भी अपने घरों से बोरी लाकर रोड पर पढ़ने बैठ गए। जिस पर मौके पर भीड़ जुट गई। रोड पर यातायात भी ठप्प हो गया। प्रधान शिक्षिका नीलम ने कहा कि दोनों विद्यालयों में करीब 150 बच्चों का पंजीकरण है। आये दिन शरारती तत्व स्कूल गेट व ताले पर मलबा लगा जाते हैं। यहां तक कि स्कूल की बाउंड्री पार कर मिड-डे-मील का किचेन क्षतिग्रस्त कर दिया जाता है। ब्लैक बोर्ड व कुर्सियों पर कचरा व मल पोत दिया जाता है। लेकिन हर बार सफाई करवाकर पढ़ाई शुरू करा दी जाती थी। लेकिन यह करतूत कब तक सही जाएगी। शरारती तत्वों ने बच्चों व शिक्षिकाओं को मानसिक रूप से परेशान कर दिया है।जिससे बच्चों की स्कूल में उपस्थिति कम होती जा रही है। बच्चों की पढ़ाई न छूटने पाए इसके लिए मजबूरन यह कदम उठाना पड़ा है। नीलम व रंजना रस्तोगी ने नगर कोतवाली, नगर पालिका व बीएसए डॉ अमरकांत सिंह को मामले से अवगत कराया है। जिस पर नगर पालिका के स्वीपर मौके पर पहुंचे। स्वीपरों ने सफाई कर गेट का ताला खुलवाया है। करीब 12 बजे स्कूल में क्लास लगी है। नगर कोतवाल संजय नाथ तिवारी ने बताया कि जल्द ही शरारती तत्वों पर कठोर कार्रवाई की जाएगी।