यमुना एक्सप्रेसवे पर तेज रफ़्तार का कहर, AIIMS के 3 डॉक्टरों सहित 5 की मौत

मथुरा। यूपी में तेज रफ्तार का कहर लगातार जारी है। आये दिन रफ्तार की वजह से कई घरों का चिराग बुझ जा रहा है लेकिन फिर भी लोग सबक नहीं ले रहे हैं। ताजा मामला यूपी के मथुरा जिला के निकट यमुना एक्सप्रेस-वे का है। यहां पर हुए भीषण हादसे में एक इनोवा कार और टैंकर की टक्कर में 3 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। मरने वाले तीनों शख्स दिल्ली के एम्स के इमरजेंसी मेडिसन के डॉक्टर थे। इस हादसे में एम्स के ही चार डॉक्टर घायल हुए हैं। वहीं यमुना एक्सप्रेस वे पर ही दूसरे हादसे में यात्रियों से भरी एक रोडवेज बस 30 फिट नीचे खाही में जा गिरी। इस घटना में 2 लोगों की मौत हो गई और चार बच्‍चों समेत 24 लोग घायल हो गए हैं। घायलों में 4 बच्चे भी शामिल हैं। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती करा दिया है, यहां उनका इलाज जारी है। पुलिस ने सभी मृतकों के शवों को कब्जे में लेकर पोलस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं क्षतिग्रस्त वाहनों को कब्जे में लेकर मामले की पड़ताल शुरू कर दी है।

जन्मदिन की खुशी मातम में बदली-
जानकरी के मुताबिक, देश की राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा को आगरा से जोड़ने वाले यमुना एक्सप्रेसवे पर रविवार रात करीब 2:30 बजे सात डॉक्टर दिल्ली से एक इनोवा गाड़ी से आगरा जा रहे थे। गाड़ी डॉ. हर्षद चला रहे थे। उनका जन्मदिन था। इसी सिलसिले में सभी एक ही गाड़ी से निकले थे। मथुरा 88 नंबर माइल स्टोन के पास इनकी इनोवा गाड़ी एक्सप्रेस-वे पर पीछे से आ रही टैंकर से टकरा गई और यह भीषण हादसा हो गया। एम्स रेजिडेंट डॉक्टर एसोसिएशन के प्रेजिडेंट हर्षित के अनुसार, मृतक डॉक्टर की पहचान हर्षद वानखेड़े, यशप्रीत काठपाल और हेमबाला के रूप में हुई है। जबकि घायल डॉक्टरों में अभिनव, जितेंद्र और महेश शामिल हैं।

हाईवे से 30 फीट नीच गिरी बस-
वहीं, यमुना एक्सप्रेस वे पर ही दूसरे हादसे में 2 लोगों की मौत हो गई। जबकि चार बच्‍चों समेत 24 लोग घायल हो गए हैं। यहां औरैया डिपो की रोडवेज बस (UP 79 T 2309) यमुना एक्‍सप्रेस-वे पर बने फेंसिंग तोड़कर कर हाईवे से नीचे गिर गई। घायलों को लेकर एम्बुलेंस मथुरा से दिल्ली के ट्रामा सेंटर में लाया गया है। मथुरा के सरकारी हॉस्पिटल के मोर्चरी विभाग का कहना है कि जैसे ही कोई यहां पहुंचता है पंचनामा करके बॉडी को दिल्ली भेज दिया जाएगा। पुलिस के मुताबिक, बस औरैया से नोएडा आ रही थी। अभी तक यह पता नहीं चल सका है कि तेज रफ्तार बस किस वजह से फेंसिंग तोड़कर हाईवे से नीचे गिरी। इस हादसे की खबर जैसे ही मृतकों के घरवालों को मिली वैसे ही उनके घरों में कोहराम मचा गया। उनके परिवार के लोग और रिश्तेदार घर पहुंच रहे हैं। लाशें पहुंचने से घरों में कोहराम मचा हुआ है वहीं घर वालों का रो-रो कर बुरा हाल है। परिवार के लोग परिजनों को सांत्वना दिला रहे थे।