विश्व प्रसिद्ध हजरत साबिर पाक पिरान कलियर दरगाह बंद, जायरीनों पर 20 अप्रैल तक प्रतिबंध

रुड़की | कोरोना वायरस के चलते पिरान कलियर स्थित विश्व प्रसिद्ध दरगाह साबिर पाक समेत क्षेत्र की तीन दरगाहों को तत्काल प्रभाव से 20 अप्रैल तक बंद कर दिया गया है। दरगाह में स्क्रीनिंग की व्यवस्था नहीं होने संबंधी खबर अमर उजाला में प्रकाशित होने के बाद हरकत में आए उत्तराखंड वक्फ बोर्ड के सीईओ डॉ. अहमद इकबाल ने दरगाह बंद करने के आदेश जारी किए हैं।

पिरान कलियर स्थित दरगाह साबिर पाक में रोजाना सैकड़ों की तादाद में देश-विदेश से पहुंच रहे जायरीनों की स्क्रीनिंग नहीं हो पा रही थी। यहां विदेशों से भी जायरीन पहुंचते हैं। ऐसे में कोरोना के संक्रमण का खतरा बना हुआ था। शुक्रवार को उत्तराखंड वक्फ बोर्ड के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ. अहमद इकबाल ने आदेेश जारी कर कहा कि कोरोना से जायरीनों एवं आम जनता के सुरक्षा के लिए यह जरूरी है कि दरगाहों को पूर्ण रूप से बंद कर दिया जाए। इसके तहत दरगाह साबिर पाक, दरगाह इमाम साहब, दरगाह किलकिली शाह साहब को 20 अप्रैल तक बंद कर दिया गया है।

इस दौरान दरगाह में जायरीनों के आवागमन पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। साथ ही उन्होंने तीनों दरगाहों के कैंपस को खाली कराकर सफाई एवं फिनायल आदि का छिड़काव सुपरवाइजरों की उपस्थिति में कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि दरगाह में सेेवा दे रहे खादिमों की सुरक्षा के लिए पर्याप्त किट की व्यवस्था की जाएगी। वहीं, दरगाह के बाहरी क्षेत्र में किसी भी व्यक्ति का रुकना पूर्ण रूप से वर्जित होगा। जो लोग मजार शरीफ में ड्यूटी पर हैं, उनकी जिम्मेदारी रहेगी कि वह उस क्षेत्र की सफाई सुनिश्चित करें।