वसीम रिजवी का आरोप- D-कंपनी ने मौलानाओं से माफ़ी मांगने के लिए दी धमकी

लखनऊ | अब मदरसों का आतंक से कनेक्शन जोड़ने वाले मरदसों पर विवादित बयान देने वाले शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी को जान से मारने की धमकी दी गई है। राजधानी के सआदतगंज थाने में शनिवार देर रात इसकी एफआईआर दर्ज की गई। एसओ सआदतगंज नीरज ओझा ने बताया कि वसीम रिजवी के मोबाइल पर शनिवार रात करीब साढ़े दस बजे एक इंटरनेशनल कॉल आया था। फोन करने वाले ने खुद को दाऊद इब्राहिम का आदमी बताते हुए वसीम रिजवी को जान से मारने की धमकी दी, और मदरसों को लेकर दिए गए अपने बयान पर मौलानाओं से माफी मांगने को कहा ।

थाने में एफआईआर दर्ज कराने के बाद मीडिया से बात करते हुए वसीम रिजवी ने कहा कि इस फोन से साफ हो जाता है कि मदरसों से जुड़े कट्टरपंथी लोगों के संबंध दाऊद इब्राहिम जैसे लोगों से हैं। गौरतलब है कि 9 दिसंबर को उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष सैयद वसीम रिजवी ने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर देश भर के मदरसों को समाप्त कर सामान्य शिक्षा नीति बनाने की मांग की थी। उन्होंने मुख्यमंत्री से मदरसा बोर्ड से पंजीकृत अधिकतर मदरसों को फर्जी बताते हुए बोर्ड को खत्म कर इन मदरसों को स्कूलों मे हस्तांतरित करने की मांग उठाई थी। उन्होंने दावा किया था कि मदरसों में पढ़ने वाले बच्चे आतंक के रास्ते पर जा रहे हैं। रिजवी ने कहा था कि मदरसे की शिक्षा देकर बच्चों को सामान्य शिक्षा से दूर किया जा रहा है। यहां पढ़ने वाले बच्चों की शिक्षा का स्तर इतना नीचे है कि वे सर्व शिक्षा से दूर होकर आतंक के रास्ते पर जा रहे हैं। अपनी मांग को पुख्ता करने के लिए पत्र में 27 बिन्दुओं पर खामियां गिनाई थी।