अलीगढ BJP में घमासान, वायरल ऑडियो पहुंची योगी के दरबार, इस बड़े नेता ने दिया इस्तीफा-

अलीगढ | भाजपा पदाधिकारियों की वायरल ऑडियो का मामला अब सीएम के दरबार में पहुंच गया है। प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य संदीप चाणक्य ने इस्तीफा देने से पहले पूरे मामले की शिकायत सीएम से की है। सीएम को भेजे गए पत्र में लिखा है कि पार्टी 2022 का विधानसभा चुनाव ऐसी सोच रखने वाले पदाधिकारियों के साथ कैसे लड़ेगी।

सांसद सतीश गौतम के पूर्व प्रवक्ता संदीप चाणक्य ने शनिवार को प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य के पद से शनिवार को अपना इस्तीफा दे दिया था। इस्तीफा देने से पहले उन्होंने वायरल ऑडियो को लेकर महानगर अध्यक्ष डा. विवेक सारस्वत सहित अन्य पदाधिकारियों की शिकायत सीएम योगी आदित्यनाथ से की है। सीएम को भेजी गई शिकायत में लिखा है कि महानगर अध्यक्ष पद पर पिछले चार वर्षों से तैनात डा. विवेक सारस्वत की पुन: तैनाती की गई है। घोषणा के कुछ दिनों बाद ही महानगर कार्यालय पर अपने साथियों के साथ कैबिनेट व जिले के प्रभारी मंत्री सुरेश राणा को काले झंडे दिखाने, राष्ट्रीय पदाधिकारी आरपी सिंह के बारे में आपत्तिजनक बातें सहित तमाम बातें कहीं गई।

इतना ही नहीं सीएम कार्यालय के सामने एक कार्यकर्ता को हत्या के लिए उकसाने की भी बात कही। पत्र में लिखा है कि पूरा ऑडियो 17 मिनट 43 सेकेंड का है। जिसकी जानकारी जिले के आला अधिकारियों व संघ के वरिष्ठ पदाधिकारियों को भी है। यह बेहद गंभीर विषय है क्योंकि इस समय पार्टी 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुटी है। ऐसे में सवाल उठता है कि ऐसी सोच रखने वाले पदाधिकारियों के साथ कैसे पार्टी चुनाव लड़ने की योजना बना सकती है। संदीप चाणक्य ने मामले की जांच समिति गठित कर कराए जाने की मांग की है।