वेंकैया नायडू ने पाक पर साधा निशाना: “पाकिस्तान को 1971 का युद्ध भूलना नहीं चाहिए”

पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के उप-राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार वेंकैया नायडू ने पाकिस्तान पर निशाना साधा है। नायडू ने रविवार को पाकिस्तान पर आतंकवाद को बढ़ावा देने को लेकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को आतंकवाद को बढ़ावा नहीं देना चाहिए। उन्होंने कहा, “हमारे पड़ोसी को यह समझना चाहिए कि आतंकवाद को बढ़ावा देने से उसे कोई मदद नहीं मिलेगी।” नायडू ने यह भी कहा कि पाकिस्तान को 1971 का युद्ध भूलना नहीं चाहिए। नायडू ने आज “कारगिल पराक्रम परेड” के दौरान यह बात कही। नायडू ने आतंकवाद को मानवता का दुश्मन बताया और कहा कि इसका कोई मजहब नहीं होता। उन्होंने कहा, “यह दुर्भाग्यपूर्ण बात है कि पाकिस्तान ने यह पॉलिसी (आतंकवाद) अपना ली है। हमार देश एक अमन पसंद देश है लेकिन जब हम पर वार होता है तो हमारे जवान मुंहतोड़ जवाब देते हैं।” बता दें पाकिस्तान ने 21 जुलाई को जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए भारत की चौकियों पर गोलीबारी की। गोलाबारी में सेना का एक जवान शहीद हो गया था। इस महीने पाकिस्तान ने 18 बार संघर्षविराम का उल्लंघन किया है जिसमें नौ जवानों समेत 11 लोगों की मौत हो गई और 18 लोग घायल हुए हैं। रक्षा प्रवक्ता ने कहा, ‘‘पाकिस्तान सेना ने शाम करीब छह बजे सुंदरबनी सेक्टर में भारतीय सेना की चौकियों पर बिना उकसावे के गोलीबारी की। सेना ने मजबूती और प्रभावी तरीके से इसका जवाब दिया।’’