AMU छात्रों के सपा में शामिल होने पर हंगामा, आमिर मिंटोई बोले- ‘हर काली शेरवानी अलीग नहीं होती’

अलीगढ | समाजवादी पार्टी में अखिलेश यादव ने सोमवार को अमुवि के छात्रों को शामिल कराया था इसको लेकर सपा निशाने पर आ गयी है | अमुवि के पूर्व छात्रों ने सपा में शामिल होने वाले नेताओं पर तंज किये हैं जो सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बने हुए हैं | सोशल मीडिया पर सपा ज्वाइन करने वाले छात्र ट्रोल हो रहे हैं |

अमुवि में छात्र कार्यकर्ता आमिर मिंटोई का फेसबुक पोस्ट सबसे ज्यादा वायरल हो रहा है जिसमे उन्होंने लिखा है कि- वक्त ने अलीगढ़ से कितना खिराज ले लिया, जिस शेरवानी से मिलने को आयरन लेडी कही जाने वाली वज़ीर-ए-आज़म तरसती रही, आज वो ही शेरवानी थोक के भाव से टोटी चोर के दरबार मैं सज्दा रेज़ है……😒 थे तो आबा वोह तुम्हारे ही मगर तुम क्या हो, सज्दा रेज़ होके, मुन्तज़िर-ए-औह्दा हो…..
हो निकोह-नाम जो शेरवानी की तिजारत करके, क्या ना बेचोगे जो लग जायें दाम माँ-बहनों के…..
नोट- जिस तरह हर चमकने वाली चीज़ सोना नहीं होती, उसी तरह हर काली शेरवानी अलीग नहीं होती।

यह छात्र नेता हुए हैं शामिल-
अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के छात्र नेता यासीन गाजी व अदनान अहमद ने भी सोमवार को लखनऊ में सपा की सदस्यता ली। वे अपने साथ 50 से अधिक समर्थकों सहित शामिल हुए। बता दें कि मूल रूप से बुलंदशहर के यासीन एएमयू की छात्र राजनीति में लंबे समय से सक्रिय हैं। 2018/19 के चुनाव में वे छात्रसंघ उपाध्यक्ष का चुनाव लड़े और बेहद कम वोटों से हारे थे। इसी तरह अदनान अहमद एएमयू की छात्र राजनीति से हटकर अब लंबे समय से मेयर मो.फुरकान के करीबी के रूप में काम कर रहे थे। इन दोनों ने भी सपा में सम्मान की खातिर शामिल होने की बात कही है।