सपा-बसपा का गठबंधन सफल, गोरखपुर-फूलपुर ने जगाई महागठबंधन की उम्मीद

लखनऊ । यूपी लोकसभा उपचुनाव के शुरुआती रुझानों ने गोरखपुर और फूलपुर में समाजवादी पार्टी की बढ़त ने यूपी में सियासत की नई गाथा लिखने की शुरुआत कर दी है । भले ही भाजपा सत्त्ता के दम पर मीडिया और पोलिंग एजेंटों को हटाकर मतगणना प्रभावित कर ले लेकिन सपा-बसपा गठबंधन की नींव यहां से पड़ती दिख रही है । यहां से भाजपा के खिलाफ महागठबंधन की कड़ी को भी बल मिलेगा ।

फूलपुर और गोरखपुर में भाजपा की इज्जत दांव पर लगी है जिसका कारण स्पष्ट है कि एक सीट सीएम की सीट है तो दूसरी डिप्टी सीएम की । मीडिया में आ रही खबरों की माने तो दोपहर तक समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी दोनों सीट पर बढ़त बनाये हुए हैं । हालांकि डीएम द्वारा 0मतगणना के परिणामो की सूचना समय से न देने और अभद्रता कराने का मामला सामने आ रहा गई लेकिन एक बात स्पष्ट हो चुकी है कि भाजपा को जनता ने नकार दिया है । उपचुनाव में सपा के अखिलेश यादव और बसपा की मायावती का गठबंधन सफल होता दिख रहा है । परिणाम अगर सपा के पक्ष में रहे तो इस गठबंधन को और बल मिलेगा जो आने वाले समय मे लोकसभा चुनावो में धरातल पर दिखाई देगा ।