‘भाजपा सरकार बनते ही UP में शुरू हुआ अराजकता का दौर’, सपाईयों ने किया प्रदेशव्यापी विरोध

लखनऊ | योगी सरकार में बिगडती कानून व्यवस्था को लेकर समाजवादी पार्टी आम चुनाव के बाद पहली बार सड़क पर उतरी और प्रदेश के सभी जिलो में ज्ञापन देकर राज्यपाल से कानून व्यवस्था में हस्तक्षेप करने की मांग की | समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर प्रदेश भर के 75 जनपदों में सपाईओं ने एकजुट होकर सरकार के खिलाफ हल्ला बोला |  जिला अध्यक्षों ने ज्ञापन में स्थानीय अपराधिक घटनाओं का भी उल्लेख किया है। जिनसे शांति व्यवस्था बुरी तरह प्रभावित हुई है।
प्रदेश के सभी जिलों में दिए गए ज्ञापन में कहा गया कि  में भाजपा की सरकार बनते ही प्रदेश में अराजकता का दौर शुरू हो गया है। दलितों और कमजोर वर्ग का लगातार उत्पीड़न हो रहा है। जातीयता और सांप्रदायिकता का उन्माद चरम पर है। अपराधिक तत्व खुलेआम कानून के लिए चुनौती बन रहे हैं। भाजपा के विधायक, मंत्री और सांसद अधिकारियों को प्रताड़ित कर रहे है। बलात्कार, लूट, अपहरण और हत्याओं पर नियंत्रण नहीं है। भाजपा सरकार बनते ही हिंदू युवा वाहिनी, बजरंगदल, भाजयुमो, विश्व हिंदू परिषद जैसी संस्थाओं ने कानून को अपने हाथ में लेकर निर्दोषों को उत्पीड़ित करने का काम शुरू कर दिया है। पुलिस कर्मी पीटे और अपमानित किए जा रहे है। जिलाधिकारियों के माध्यम से राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन से समाजवादी पार्टी यह बात संज्ञान में लाई है कि भाजपा सरकार शांति व्यवस्था के मामले में विफल है। इसके राज में अपराधी भयमुक्त है और जनता त्रस्त है। सामाजिक सौहार्द को बिगाड़ा जा रहा है।  अखिलेश यादव के मुख्यमंत्रित्वकाल  में प्रदेश को आगे ले जाने के लिए जो विकास योजनाएं लागू की गईं थी उनके बारे में भ्रम फैलाया जा रहा है। भाजपा दुष्प्रचार के सहारे अपनी अकर्मण्यता छुपाना चाहती है।
प्रदेश प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने बताया है कि आज बुलंदशहर में सांसद  सुरेन्द्र नागर , जिलाध्यक्ष कुंवर अब्दुल रब, महासचिव बादल यादव, पूर्व प्रत्याशी शुजात आलम एड., बाराबंकी में  पूर्वमंत्री अरविन्द सिंह ‘गोप‘ उन्नाव में  सुनील यादव‘ साजन‘ इलाहाबद में पूर्वमंत्री उज्जवल रमण सिंह, मैनपुरी में तेजप्रताप सिंह सांसद, कानपुर नगर में  सुखराम सिंह यादव विधायक, गाजीपुर में पूर्व सांसद  राधेमोहन तथा विधायक  सुभाष पासी, आजमगढ़ में पूर्वमंत्री दुर्गा प्रसाद यादव एवं संग्राम सिंह यादव विधायक तथा अंबेडकर नगर में पूर्व विधायक राममूर्ति वर्मा के नेतृत्व में जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपे गए।
राज्यपाल जी को संबोधित ज्ञापन लखीमपुर में  रवि प्रकाश वर्मा, सांसद, रायबरेली में  मनोज पाण्डेय विधायक,  सीतापुर में विधायक  नरेन्द्र वर्मा, संभल में सांसद  धर्मेन्द्र यादव, सहारनपुर में  संजय गर्ग पूर्वमंत्री, मुरादाबाद में हाजी इकराम कुरैशी विधायक, अमेठी में  राकेश प्रताप सिंह विधायक, प्रतापगढ़ में पूर्वमंत्री शिवकांत ओझा, फिरोजाबाद में  उदयवीर सिंह, असीम यादव एमएलसी एवं मेरठ में  राजपाल सिंह, डा0 सरोजनी अग्रवाल, रफीक अंसारी, अतुल प्रधान के नेतृत्व में जिलाधिकारी को सौंपे गए । लखनऊ में मौ एबाद ,  सुशीला सरोज, डा0 मधु गुप्ता, जरीना उस्मानी, अशोक यादव, फाकिर सिद्दीकी, विजय यादव तथा राम सागर यादव, अलीगढ में जिलाध्यक्ष अशोक यादव, पूर्व विधायक ठाकुर राकेश सिंह, ब्लाक प्रमुख गिरीश यादव ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपकर राज्यपाल महोदय से शीघ्र कार्रवाही की मांग की।