उप्र : 94 की जगह अब सिर्फ 37 विभाग होंगे, योगी सरकार इन विभागों को करेगी मर्ज

लखनऊ । सूबे की राजधानी से आ रही खबरों के अनुसार यूपी के 94 विभाग घटाकर अब 37 हो जाएंगे । योगी सरकार यह बड़ा फैसला लेने की तैयारी में हैं । जल्द ही इसके लिए कैबिनेट की बैठक भी बुलाई जा सकती है ।

सरकार इन विभागों को मर्ज करने की कर रही है तैयारी-

कृषि, कृषि शिक्षा, सहकारिता, गन्ना चीनी एक होंगे, उद्यान, खाद्य प्रसंस्करण और मंडी भी शामिल, नए विभाग का नाम कृषि एवं कल्याण मंत्रालय, लघु सिंचाई और जल संसाधन अब सिंचाई में, पशुधन दुग्ध विकास, मत्स्य पालन एक होगे, वन, पर्यावरण मिलाकर एक विभाग हो जाएंगे, पंचायतीराज अब ग्राम्य विकास का हिस्सा होगा, एमएसएमई खादी, रेशम, हथकरघा एक होंगे, औद्योगिक विकास में खनन विभाग भी आएगा, अतिरिक्त ऊर्जा अब ऊर्जा विभाग में जाएगा, परिवहन, RES, राज्य सम्पत्ति, PWD में जाएंगे, आवास विकास अब नगर विकास का हिस्सा होगा ।

खेल विभाग शिक्षा विभाग का एक हिस्सा होगा, उच्च शिक्षा के साथ प्राविधिक शिक्षा भी जुड़ेगी, पर्यटन, संस्कृति, धर्मार्थ मिलाकर एक विभाग, स्वास्थ्य विभाग को बड़ी जिम्मेदारी मिलेगी, परिवार कल्याण, FSDI और पुष्टाहार जुड़ेगा,महिला कल्याण, पिछला वर्ग सब समाज कल्याण में, वाणिज्य कर, स्टाम्प, मनोरंजन कर सब वित्त में बैंकिंग सेक्टर भी अब वित्त विभाग में आएगा, जेल, होमगार्ड और पेंशन भी अब गृह विभाग में, सामान्य प्रशासन, प्रशासनिक सुधार का मर्जर, सचिवालय प्रशासन में अब 4 विभाग होंगे, न्याय के साथ शामिल विधायी विभाग हटेगा, चुनाव के लिए अलग से निर्वाचन विभाग होगा।

अब देखना यह है कि योगी सरकार इस बड़े फैसले कबसे लागू करती है । यह फैसला प्रशासनिक सुधार की दृष्टि से अहम फैसला माना जा रहा है ।