HC के फैसले से 12 वीं के छात्रों में रिजल्ट के लिए बैचेनी बढ़ी

नयी दिल्ली | केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई)की परीक्षाओं में कृपांक (ग्रेस मार्क) की नीति इस वर्ष भी जारी रखने के दिल्ली उच्च न्यायालय के फैसले को देखते हुए इनके नतीजों को लेकर बनी अनिश्चितता की स्थिति से अभिभावकों तथा छात्रों में बेचैनी बढ गयी है, सीबीएसई की बारहवीं कक्षा के नतीजे इस सप्ताह तक आने की उम्मीद थी।
सीबीएसई सूत्रों ने कहा था कि नतीजे 22 मई से 27 मई के बीच कभी भी आ सकते हैं लेकिन न्यायालय के फैसले से अनिश्चितता की स्थिति बन गयी है।
इस बीच, सीबीएसई के चेयरमैन आर के चतुर्वेदी ने राजधानी में आज एक कार्यक्रम के दौरान मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर से मुलाकात की।