मेरठ में मासूम से हैवानियत, हाथ-पैर बांधकर दी यातनाएं, यह वीडियो देख कांप जाएगा आपका दिल-

मेरठ । मेरठ में आठ साल के अनाथ मासूम से ऐसी बर्बरता की गईं कि सुनकर और देखकर लोगों का कलेजा कांप गया। ममेरे भाई ने पहले इस बच्चे को बुरी तरह पीटा और फिर हाथ-पैर बांधकर उल्टा लटका दिया। मासूम चीखता रहा, लेकिन आरोपी यातनाएं देता रहा। यह घटना शुक्रवार की रोहटा क्षेत्र के कैथवाड़ी गांव की है। वीडियो वायरल होने पर पुलिस ने आरोपी को शनिवार को गिरफ्तार कर लिया।

एसओ रोहटा धनवीर सिंह के अनुसार मुजफ्फरनगर के जड़ौदा निवासी दंपती की बीमारी से मौत हो गई थी। उनके दो बेटे आठ और 11 साल के हैं। दोनों बच्चों को दंपती का रिश्तेदार कैथवाड़ी गांव ले आया था। इनमें छोटा बेटा एक बार घर से गायब हो चुका है, जिसे कंकरखेड़ा पुलिस ने बरामद किया था। जो वायरल वीडियो सामने आई है, उसमें ममेरा भाई अनिल उर्फ सोनू इस छोटे बेटे को पहले चारपाई पर गिराकर पीटता है। उसके बाद उसके दोनों पैर आपस में बांध देता है। फिर बच्चे को लोहे के कुंडे से रस्सी से उल्टा लटका देता है। बच्चा चीखता रहा। लेकिन आरोपी उसकी पिटाई करता रहा। इस दौरान इस मासूम का बड़ा भाई वहीं चुप खड़ा रहता है। जबकि अनिल की पत्नी इसे तमाशा समझकर चारपाई पर बैठ जाती है।

क्या गुजरी होगी मासूम के दिल पर-
उल्टा लटका होने के दौरान यह बच्चा किसी तरह पैरों को खोलने की कोशिश करता है। जिसके बाद आरोपी तार से बच्चे के दोनों हाथों को भी बांध देता है। यही नहीं पानी मांगने पर आरोपी बच्चे को गिलास दिखाकर खुद पानी पी जाता है। ऐसे में इस मासूम के दिल पर क्या गुजरी होगी।

पुलिस के अनुसार मासूम को यातनाएं देने की वीडियो अनिल का चचेरा भाई अपने मोबाइल फोन से बना रहा था। यह वीडियो जब वायरल हुई तो पुलिस अफसरों तक पहुंची। एसपी देहात अविनाश पांडेय के निर्देश पर एसओ रोहटा ने मौके पर जाकर जांच की। जिसके बाद आरोपी अनिल को गिरफ्तार कर लिया गया। एसओ ने बताया कि अनिल को बंधक बनाने और 75 जुवेनाइल एक्ट में रिपोर्ट दर्ज कर जेल भेज दिया गया है।