अलीगढ पुलिस की बड़ी कार्यवाही, CAA का विरोध करने वाले AMU के 56 छात्रों के खिलाफ होगी ये कार्यवाही-

अलीगढ | शाहजमाल धरने में घर-घर संपर्क करके महिलाओं को धरने पर लाने और धरने की प्लानिंग को मूर्त रूप देकर कानून व्यवस्था बिगाड़ने के प्रयास में पुलिस ने सख्ती करना शुरू कर दिया है। अब तक की पड़ताल में दूर-दराज के रहने वाले 56 छात्रों को चिह्नित किया है। सभी को उनके मूल पतों पर नोटिस भेजे जा रहे हैं। संग ही मूल पते से संबंधित थाने की पुलिस को भी सतर्क किया जा रहा है। ताकि छात्रों की गतिविधियों पर नजर रखी जा सके।

बता दें कि नागरिकता कानून को लेकर पिछले डेढ़ माह से शहर में विरोध चल रहा है। अब तक अलग-अलग इलाकों में महिलाएं सड़क पर उतर रही थी और बीती 29 जनवरी से शाहजमाल ईदगाह के बाहर शाहीनबाग की तर्ज पर धरना शुरू हो गया है। इस धरने पर महिलाओं की संख्या कम न हो, इसे लेकर एएमयू के छात्र व छात्राएं निरंतर घर-घर दस्तक देकर महिलाओं को धरने पर लाने के प्रयास कर रहे हैं वहीं यहां दूसरी सुविधाएं भी मुहैया करा रहे हैं।

पुलिस की पड़ताल में ऐसे 56 छात्र चिह्नित किए हैं जो इसमें जुटे हैं।लिहाजा, इन सभी छात्रों को उनके मूल पतों पर पुलिस ने नोटिस भेजा है। इसमें साफ कहा है कि आपके द्वारा महिलाओं को उकसाया जा रहा है। ऐसे में अगर शहर की कानून व्यवस्था बिगड़ती है तब आपको जिम्मेदार मानते हुए कानूनी कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही संबंधित थानों की पुलिस को भी सतर्क किया है ताकि निगरानी बढ़ा सके।

धौर्रामाफी में सड़क पर आने वाली 30 महिलाओं को नोटिसधौर्रा माफी में श्ुाक्रवार की शाम सड़क पर बैठकर धरना देने के लिए पहुंची 30 महिलाओं को क्वार्सी पुलिस ने नोटिस दिए हैं। इसमें कहा है कि अगर दोबारा सड़क पर उतरकर कानून व्यवस्था बिगाड़ने औरयातायात में व्यवधान डालने का प्रयास किया तो मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। सीओ सिटी अनिल समानिया ने बताया कि और महिलाओं को चिह्नित किया जा रहा है। उन्हें भी जल्द ही नोटिस देकर चेताया जाएगा।.