भारत से बड़ी खबर, वैज्ञानिकों ने की कोरोना वायरस की पहचान, ये है तस्वीर-

नई दिल्ली | भारत के वैज्ञानिकों ने पहली बार सार्स-सीओवी-2 #वायरस (कोविड-19) की सूक्ष्मतम (माइक्रोस्कॉपी) तस्वीर पर से परदा उठाने में कामयाबी हासिल की है। #वैज्ञानिकों ने प्रयोगशाला के जरिए भारत के पहले पुष्ट #कोरोना वायरस (कोविड-19) मामला जो कि 30 जनवरी को केरल में मिले थे, से इसे निकालने में सफलता पाई है। आईजेएमआर के लेटेस्ट एडिशन में इसे विस्तार से प्रकाशित किया गया है। वहीं, देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस ‘#कोविड-19’ संक्रमण के 75…

Read More

बीटेक, एमटेक और पीएचडी का बदलेगा पाठ्यक्रम !

देशभर के इंजीनियरिंग कॉलेजों में बीटेक और एमटेक के पाठ्यक्रमों को एक बार फिर से बदलने की तैयारी है। ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन (एआईसीटीई) ने द इंस्टीट्यूट ऑफ इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर्स, इंकॉरपोरेटेड (आईईईई) को आउटकम बेस्ड पाठ्यक्रम तैयार करने की जिम्मेदारी दी है। एआईसीटीई ने इसके लिए पिछले गुरुवार को आईईईई के साथ अहम समझौता किया है। इसके मुताबिक आईईईई के विशेषज्ञ अंतरराष्ट्रीय स्तर और कॉरपोरेट सेक्टर की डिमांड को देखते हुए पाठ्यक्रम तैयार करेंगे। इसके…

Read More

DRDO का वैज्ञानिक आतंकी निशांत अग्रवाल गिरफ्तार, ISI के लिए करता था जासूसी

मुंबई एएनआई। महाराष्ट्र के नागपुर में ब्रह्मोस यूनिट से जासूसी के आरोप में एक सीनियर इंजीनियर को गिरफ्तार किया गया है। उत्तर प्रदेश एंटी टेरर स्क्वॉड की टीम ने यह कार्रवाई की है। निशांत अग्रवाल पर ब्रह्मोस मिसाइल यूनिट में काम करते हुए मिसाइल संबंधी तकनीक और अन्‍य खुफिया जानकारियां पाकिस्‍तान और अमेरिका को पहुंचाने का आरोप है। निशांत, मूल रूप से उत्तराखंड के रहने वाले हैं और पिछले पांच साल से डीआरडीओ की नागपुर यूनिट में काम कर…

Read More

#मोदी #सरकार का #कालेजों में #टीचर्स भर्ती को लेकर बड़ा फैसला

नई दिल्ली | देश में उच्च शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ाने के लिए शिक्षकों की नियुक्ति के नियमों में परिवर्तन करते हुए सरकार ने बुधवार को एक बड़ा फैसला किया जिसके तहत अब कॉलेजोंं में भी प्रोफेसर होंगे और पीआई(एसेसमेंट परफोमेंट इंडेक्स) प्रणाली को खत्म कर दिया गया है एवं नये शिक्षकों की नियुक्ति के बाद उन्हें अध्यापन के लिए एक महीने का कोर्स करना पड़ेगा। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आज यहां देश के विश्वविद्यालयों और…

Read More

#आर्टिफिशियल #इंटेलिजेंस का होगा आने वाला वक़्त, यह होंगे #फायदे-

नई दिल्ली, (इंडिया साइंस वायर) | आने वाला समय कृत्रिम बुद्धिमत्ता यानी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का होगा। एक अनुमान के मुताबिक वर्ष 2030 तक चीन अपनी जीडीपी का करीब 26 प्रतिशत और ब्रिटेन 10 प्रतिशत निवेश कृत्रिम बुद्धिमत्ता संबंधित गतिविधियों और व्यापार पर करेंगे। तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था एवं आबादी में दूसरा सबसे बड़ा देश होने के कारण भारत के लिए कृत्रिम बुद्धिमत्ता का विशेष महत्व है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा नीति आयोग को इस…

Read More