सपा-बसपा के गठबंधन पर बोले CM योगी- ‘हाथी साईकिल पर चढ़ेगा तो पंक्चर ही होगा’

लखनऊ | उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा-बसपा गठबंधन को भ्रष्टाचार का गठबंधन बताया है। उन्होंने कहा कि महागठबंधन खड़ा करके जातिवाद की सबसे खराब लड़ाई भी अगर लड़ी जाएगी तो इसमें 70 प्रतिशत भाजपा  के पक्ष में होंगे और 30 प्रतिशत वोटर गठबंधन के पक्ष में होंगे।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने यह बात एक टीवी कार्यक्रम में कही। उन्होंने कहा कि  इस बार बुआ-बबुआ एक ओर हैं, भाई-बहन भी एक गठबंधन बना के आ रहे हैं। 2017 विधानसभा चुनाव में दो लड़के साथ आए थे, दोनों बुरी तरह परास्त हुए थे।  जो लोग मोदी जी पर उंगली उठा रहे हैं, उनके परिवार के इतिहास और डीएनए में भ्रष्टाचार है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राम मंदिर मुद्दा हमारे लिए चुनाव में फायदे या नुकसान का नहीं आस्था का मुद्दा है। यह मामला  सुप्रीम कोर्ट में है। लेकिन इसमें अनावश्यक देरी होने से जनता का धैर्य जवाब देने की स्थिति की ओर बढ़ रहा है। मैं कहना चाहता हूं कि न्यायालय फैसला जल्दी करे और अगर नहीं कर सकता तो इसे हमें सौंप दे। हम 24 घंटे के अन्दर रामजन्भूमि विवाद का समाधान कर देंगे। 25 वां घंटा नहीं लगेगा।

सपा-बसपा के गठबंधन और मायावती के पीएम पद की दावेदारी पर सीएम योगी ने कहा कि हाथी साइकिल पर चढ़ेगा तो पंक्चर ही होगा। यह गठबंधन अराजकता, प्रदेश के विकास को अवरुद्ध करने वाला और स्वार्थों का गठबंधन है।  मुझे आश्चर्य है कि मुलायम सिंह जी सपा बसपा गठबंधन पर चुप क्यों हैं। 2014 में वह भी पीएम के पद के उम्मीदवार थे। आज समाजवादी पार्टी भी उन्हें पीएम का उम्मीदवार मानती है कि नहीं ? मुलायम को गठबंधन पर व उम्मीदवारी बयान जरूर देना चाहिए। सीएम ने कहा कि राहुल गांधी ने ‘एक्सिडेंटल हिन्दू’ से ‘जनेऊधारी हिन्दू’ तक की यात्रा की है। यह हमारी वैचारिक विजय है। आज राहुल गांधी को इस बात का अहसास होने लगा है कि अगर हिन्दुस्तान में रहना है, तो जनेऊ और टीका दिखाना ही पड़ेगा और मंदिर जाना ही पड़ेगा। सीएम योगी आदित्यनाथ ने राजनीति में प्रियंका गांधी के आने के सवाल पर कि कांग्रेस ने साबित कर दिया कि परिवार ही उनके लिए पार्टी है, परिवार के बाहर उनकी दृष्टि नहीं जा सकती।