इलाहाबाद: स्मार्ट सिटी लिमिटेड के निदेशक मंडल की प्रथम बैठक हुयी सम्पन्न

शशांक मिश्रा/इलाहाबाद| मण्डलायुक्त डॉ. आशीष कुमार गोयल आज अपने कैम्प कार्यालय में जिलाधिकारी  संजय कुमार, उपाध्यक्ष एडीए भानुचन्द्र गोस्वामी के साथ स्मार्ट सिटी के निदेशक मंडल की प्रथम बैठक की गयी। बैठक में स्मार्ट सिटी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के लिए नगर आयुक्त  हरिकेश चौरसिया को नियुक्त कर दिया गया है। मुख्य कार्यकारी अधिकारी के पास ही 25 लाख तक का वित्तीय अधिकार रहेगा।  स्मार्ट सिटी में व्यय के अनुमोदन के लिए 25 लाख से 1 करोड तक के लिए कमेटी गठित की गयी है जिसमें मुख्य अभियन्ता जल निगम, नगर आयुक्त, मुख्य अभियन्ता नगर निगम तथा सीएफओ होंगे। 1 करोड से अधिक के लिए चैयरमेन, जिलाधिकारी, नगर नियोजक तथा मुख्य अभियन्ता नगर निगम कमेटी में रहेंगे।

बैठक में स्मार्ट सिटी में कार्य करने वाले कर्मचारियों की नियुक्ति के सम्बन्ध में यह निर्णय लिया गया कि नियुक्तियों प्रतिनियुक्ति एंव संविदा के आधार पर ही की जायेगी। नियुक्ति के सम्बन्ध में एक कमेटी भी गठित की गयी है जिसमें नगर आयुक्त, उपाध्यक्ष एडीए, मुख्य अभियन्ता नगर निगम तथा अपर नगर आयुक्त होंगें।   इसी के साथ स्मार्ट सिटी के आफिस के बारे में भी उपयुक्त स्थान खोजे जाने के निर्देश मण्डलायुक्त के द्वारा दिये गये।
मण्डलायुक्त ने कहा कि स्मार्ट सिटी के लिये लोगो भी तैयार किया जाये। इसके लिए एक प्रतियोगिता का आयोजन कर लोगों से लोगो की डिजाइन आमंत्रित की जाय स्मार्ट सिटी एक वेबसाईट बनाया जाय जिसमें स्मार्ट सिटी के बारे में विस्तृत तरीके से बताया जा सक
     मण्डलायुक्त डॉ. आशीष कुमार गोयल आज अपने कैम्प कार्यालय में जिलाधिकारी  संजय कुमार, उपाध्यक्ष एडीए भानुचन्द्र गोस्वामी के साथ स्मार्ट सिटी के निदेशक मंडल की प्रथम बैठक की गयी। बैठक में स्मार्ट सिटी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के लिए नगर आयुक्त  हरिकेश चौरसिया को नियुक्त कर दिया गया है। मुख्य कार्यकारी अधिकारी के पास ही 25 लाख तक का वित्तीय अधिकार रहेगा।  स्मार्ट सिटी में व्यय के अनुमोदन के लिए 25 लाख से 1 करोड तक के लिए कमेटी गठित की गयी है जिसमें मुख्य अभियन्ता जल निगम, नगर आयुक्त, मुख्य अभियन्ता नगर निगम तथा सीएफओ होंगे। 1 करोड से अधिक के लिए चैयरमेन, जिलाधिकारी, नगर नियोजक तथा मुख्य अभियन्ता नगर निगम कमेटी में रहेंगे।
बैठक में स्मार्ट सिटी में कार्य करने वाले कर्मचारियों की नियुक्ति के सम्बन्ध में यह निर्णय लिया गया कि नियुक्तियों प्रतिनियुक्ति एंव संविदा के आधार पर ही की जायेगी। नियुक्ति के सम्बन्ध में एक कमेटी भी गठित की गयी है जिसमें नगर आयुक्त, उपाध्यक्ष एडीए, मुख्य अभियन्ता नगर निगम तथा अपर नगर आयुक्त होंगें।   इसी के साथ स्मार्ट सिटी के आफिस के बारे में भी उपयुक्त स्थान खोजे जाने के निर्देश मण्डलायुक्त के द्वारा दिये गये।
मण्डलायुक्त ने कहा कि स्मार्ट सिटी के लिये लोगो भी तैयार किया जाये। इसके लिए एक प्रतियोगिता का आयोजन कर लोगों से लोगो की डिजाइन आमंत्रित की जाय स्मार्ट सिटी एक वेबसाईट बनाया जाय जिसमें स्मार्ट सिटी के बारे में विस्तृत तरीके से बताया जा सके।