बिहार में अभी तक महाविश्वासघात का गठबंधन था, अब विकास का बंधन : सिद्दार्थ नाथ सिंह

शशांक मिश्रा/इलाहाबाद | बमरौली पावर हाउस पूरामुफ्ती में  प्रदेश सरकार के प्रवक्ता एवं चिकित्सा व स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने फ्री विधुत कनेक्शन प्रमाण पत्र 30 लोगों तथा 10 दिव्यांग लोगों को ट्राईसाइकिल वितरण के बाद संबोधन में कहा हमारी पार्टी का एक सिद्धान्त है कि जो आखिरी पायदान पर खड़ा हुआ उसको सरकारी सुविधा और जीवन मे कैसे सुधार हो इस दिशा में पंडित दीन दयाल उपाध्याय जी से प्रेरणा लेकर योगी सरकार काम कर रही है।अभी 500 लोगों को फ्री कनेक्शन दिए जा चुके है। ऊर्जा मंत्री को बधाई देता हूँ। मीरा पट्टी में जल भराव पर कहा कि हर साल आती रही है समाधान नही हुआ। जीटी रोड के दाएं बाये दोनों तरफ सड़क से 4 से 5 फुट नीचे कालोनियों का निर्माण हुआ है।जिसमें सीवरेज का कनेक्शन नही है।नगर निगम के साथ समीक्षा हुई है । नगर विकास मंत्री से वार्ता भी है । अगली बरसात से पहले समाधान हो जाएगा।
मंत्री ने शिक्षा मित्रों के विषय पर कहा यह वर्तमान राज्य सरकार को कोई लेना देना नही है। कुछ लोगों ने पीआईएल सुप्रीम कोर्ट में गए जिस पर फैसला आया। पिछली सरकार में  अनेक अनियमियताएँ हुई थी।कोर्ट ने रदद् कर दिया, हमारी सहानुभूति है ।लेकिन शिक्षा व्यवस्था भी सुचारू रूप से सही चले। आज भी 50 प्रतिशत बच्चे  को गुणा भाग नही कर पाते है।
बिहार के गठबंधन पर कहा कि अभी तक बिहार में महागठबंधन नही महाविश्वासघात का था अब जेडीयू और बीजेपी का विकास का गठबंधन हुआ है जो लोग उत्तर प्रदेश में महागठबंधन का सपना देख रहे थे सपने चूर चूर हो गए । यह अवसरवाद नही सिद्धान्त से बना है। सिद्धार्थ नाथ सिंह ने डेंगू की बीमारी पर कहा स्वच्छ्ता नही होगी तो बीमारी होगी लोगों को जागरूक होना पड़ेगा।सरकार की तरफ से दवा का फागिंग शुरू हो गयी है हर जिला अस्पतालों/सीएचसी में डेंगू बीमारी अलग से वार्ड बनाया गया है और हेल्प काउंटर खोले गए है।