शिवसेना का मोदी सरकार पर तंज : झूठे वादों से चुनाव जीते जा सकते है, जंग नही

मुंबई | एनडीए में बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने केंद्र की मोदी सरकार पर एक बार फिर से निशाना साधा है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को कहा कि चीन को उकसाने से पहले देश को अपनी रक्षा तैयारियों को ध्यान में रखना चाहिए। सहयोगी बीजेपी पर निशाना साधते हुए ठाकरे ने कहा कि चुनाव तो झूठे वादों की दम पर जीते जा सकते हैं, लेकिन जंग खुद की प्रशंसा करके नहीं जीती जा सकती।

ठाकरे ने शिवसेना के मुखपत्र सामना को दिए इंटरव्यू में कहा, “पाकिस्तान और चीन की ओर से मिलने वाली धमकियों में हाल के दिनों में वृद्धि हुई है और हमारे पास उनसे लड़ने के लिए पर्याप्त गोला-बारूद नहीं है।” उद्धव ने बीजेपी से सवाल पूछते हुए कहा कि तीन साल में इस ताकतवर सरकार ने क्या किया? भारत की ओर से चीन को यह बताने पर कि अब वह 1962 वाला भारत नहीं है, पर निशाना साधते हुए ठाकरे ने कहा कि जब हम चीन को बताते हैं कि आज का भारत, 1962 के भारत से अलग है, तो हमें अपना मुंह खोलने से पहले अपने पास मौजूद गोला-बारूद को याद रखना चाहिए। केंद्र और महाराष्ट्र में बीजेपी सरकार की सहयोगी शिवसेना ने कहा, “कोई भी झूठे वादों और आत्म-प्रशंसा पर चुनाव जीत सकता है लेकिन युद्ध नहीं।” साथ ही ठाकरे ने कहा कि सरकार लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने के अपने वादे में असमर्थ साबित हुई है। उन्होंने कहा कि नोटबंद के बाद के 4 महीनों में 15 से 16 लाख लोगों ने अपनी नौकरी गंवाई और भविष्य में स्थितियां और खराब होने वाली है।

महाराष्ट्र निकाय चुनाव में बीजेपी की जीत पर शिवसेना सुप्रीमो ने कहा कि यह सिर्फ महाराष्ट्र में हुआ है और गोवा तथा पंजाब जैसे राज्यों में पार्टी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई है। उन्होंने कहा कि गोवा में कांग्रेस की ओर से कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी समेत पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने प्रचार नहीं किया था जबकि पीएम मोदी ने पार्टी के लिए प्रचार किया था। कांग्रेस ने चुनाव में कोई भी बड़ा चेहरा नहीं उतारा था लेकिन बीजेपी से ज्यादा सीटें जीतने में कामयाब रही। वहीं, पंजाब में बीजेपी का नाश हो गया।