शरद यादव आज से बिहार दौरे पर, उनपर हो सकती है यह बड़ी कार्यवाही

पटना। जदयू नेता शरद यादव आज से बिहार के तीन दिवसीय दौरे पर है। इस दौरे के कई मायने निकाले जा रहे है। कुछ राजनीतिक पार्टियों ने तो यह भी कयास लगाए है की शरद यादव को पार्टी से निकाला भी जा सकता है। असली वजह यह है की जिस दिन से बिहार में गठबंधन टूटा है उस दिन से शरद नीतीश कुमार से नाराज बताए जा रहे है। नीतीश कुमार ने गठबंधन टूटने के बाद एनडीए में शामिल होकर सरकार बना ली है। सरकार को बने हुए पूरे 15 दिन हो चले है, लेकिन न तो शरद नीतीश के पक्ष में खुलकर कुछ बोल पा रहे और ना ही विरोध कर पा रहे है।

जदयू के वरिष्ठ नेता शरद यादव अपने तीन दिन की यात्रा पर बिहार में जनता के बीच जाकर गठबंधन टूटने के कारणों और उसके बारे में जनता का निर्णय जानने की कोशिश करेंगे। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक शरद पार्टी के नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं, उन्होंने अपनी यात्रा की जानकारी पार्टी को नहीं दी है, इस वजह से पार्टी उनपर बड़ी कार्रवाई कर सकती है। जदयू ने एक नोटिस भी जारी किया है जिसमें कहा गया है कि जो भी कार्यकर्ता शरद के कार्यक्रम में जाएगा उस पर पार्टी कड़ी कार्रवाई करेगी। वहीं, उनके आने से पहले जदयू से निकाले गए गुजरात के पार्टी महासचिव अरुण श्रीवास्तव भी आज सुबह पटना पहुंचे हैं। हालांकि शरद के बिहार दौरे को लेकर जदयू ने कहा है कि वो उनका अपना निजी दौरा है और पार्टी को इससे कोई लेना-देना नहीं है। लेकिन यह भी कहा जा रहा है कि शरद को पार्टी से इस बारे में बात करनी चाहिए थी।