सेक्स रैकेट पर पड़ी रेड-खुला सालो पुराना राज…

मुंबई। पालघर पुलिस की सामाजिक सुरक्षा विभाग की टीम को खबर मिली कि बोईसर के दांडी पाड़ा में एक देह व्यापार का अड्डा चलाया जा रहा है। जिसके बाद कुछ महिला पुलिसकर्मी के साथ सोमवार रात को एक टीम ने यहां छापा मारा। शहर से सटे पालघर के बोईसर इलाके में सोमवार को एक घर में पुलिस ने सेक्स रैकेट ऑपरेट होने की सूचना के बाद छापा मारा। इस छापे में चार लड़कियों को आजाद करवाया गया और एक महिला संचालिका और एक ग्राहक को अरेस्ट किया गया।

गिरफ्तार महिला ने पूछताछ में 13 साल पुरानी अपने पति की हत्या का गुनाह कबूल किया। इसके बाद पुलिस ने बुधवार को फिर घर की तालाशी ली और बाथरूम टैंक से 13 साल पुराना कंकाल बरामद किया। ऐसे सामने आया महिला का राज….
इस कार्रवाई में पुलिस ने अड्डे की संचालिका सरिता भारती और एक ग्राहक को अरेस्ट किया। सरिता ने पूछताछ में जो खुलासा किया उसे सुनकर खुद पुलिस भी सन्न रह गई। उसने बताया कि आज से 13 साल पहले उसने अपने पति सहदेव की अपने प्रेमी कमलेश के साथ मिलकर हत्या कर दी थी। मर्डर के बाद मामला छिपाने के लिए उसने बॉडी को घर के अंदर बने टैंक में छिपा रखा था। 13 साल से टैंक में पड़ी बॉडी का अब सिर्फ कंकाल ही बचा है।

सरिता ने पुलिस को बताया कि उसका पति सहदेव उसके धंधे में रोक-टोक करता था। उसे ये भी पसंद नहीं था की वे अपने प्रेमी से मिले। इसलिए उसने प्रेमी के साथ मिल पति का मर्डर कर दिया।
बोईसर थाने के वरिष्ठ पुलिस इंस्पेक्टर किरन कबाड़ी ने बताया कि पूछताछ के दौरान उसने पति की हत्या करने का गुनाह कबूल कर लिया।
इसके बाद वरिष्ठ अधिकारियों के मंजूरी लेकर फरीदा के घर में टैंक की खुदाई की गई और सहदेव भारती के अवशेष बरामद किए। अवशेष को फोरेंसिक लैब भेजा गया है।

आगे की जांच जारी है। लोगो मे इस बात की चर्चा जोरों पर है की घटना स्थल से नर कंकाल और भी बरामद हो सकते है।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आरोपी सरिता भारती जादू-टोना का काम भी करती थी। वह अपने यहां आने वाली लड़कियों को तंत्र साधना के नाम पर देहव्यापार के अड्डे में धकेल देती थी। कई ऐसे लोग सामने आये हैं जिन्होंने पुलिस को ये जानकारी दी है की सरित तांत्रिक विद्या करती थी। वो अक्सर अपने घर में मुर्गे की बलि देकर कच्चा मुर्गा को खाकर तांत्रिक क्रिया करती थी।