सेना पर आरोप लगाने के कारण, बीजेपी ने की पार्टी से निष्काषित करने की मांग

भारतीय सेना पर बलात्कार का आरोप लगाने के लिये सपा नेता आजम खान पर तीखा प्रहार करते हुए भाजपा ने मांग की है कि आज़म खान को पार्टी से निष्काषित कर  देना  चाहिए क्योंकि वे धर्म के आधार पर लोगों को बांटने का प्रयास कर रहे हैं। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि आजकल अभिव्यिक्त की स्वतंत्रता के नाम पर भारतीय सेना को नीचा दिखाने का फैशन बन गया है। भाजपा प्रवक्ता ने सेना के खिलाफ बयान देने के लिये समाजवादी पार्टी, कांग्रेस और वामदलों पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सेना हमारी सुरक्षा करती है जबकि कांग्रेस, सपा और वामदल लगातार सेना के खिलाफ बयान दे रहे हैं और धुंधली तस्वीर पेश करने का प्रयास कर रहे हैं। भाजपा प्रवक्ता संवाददाताओं से सपा नेता आजम खान के उस बयान के बारे में बात कर रहे थे जिसमें उन्होंने  ने कथित तौर पर सेना पर जम्मू कश्मीर में बलात्कार का आरोप लगाया था। खान के बयान को शर्मनाक करार देते हुए पात्रा ने कहा कि आज़म  बार बार गलती करते हैं और रक्षा एवं सेना से जुड़े संवेदनशील मुद्दे पर राजनीति करते हैं। एक बार फिर से उन्होंने सेना का मान कम करने का प्रयास किया है। ‘मैं उम्मीद करता हूं कि उनकी पार्टी उन्हें बर्खास्त करेगी।’ भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि सभी लोगों ने सेना के पराक्रम को देखा है और बाढ़ के दौरान घाटी में लोगों को बचाने का काम किया है। दुनियाभर में भारतीय सेना का सम्मान दिया  जाता है। लेकिन आजम खान धर्म के आधार पर देश को बांटने का प्रयास कर रहे हैं