पंजाब: कांग्रेस की 70 सीटों की लिस्ट स्क्रीनिंग कमेटी ने सोनिया को सौंपी, अब सीईसी लेगी फैसला

चंडीगढ़। कांग्रेस में टिकटों को लेकर मंथन अब चरम पर पहुंच गया है। स्क्रीनिंग कमेटी ने 70 विधानसभा सीटों पर सिंगल उम्मीदवारों की लिस्ट सोनिया गांधी को सौंप दी है। टिकटों का फैसला अब सेंट्रल इलेक्शन कमेटी की बैठक में लिया जाएगा। वहीं, बाकी के सिटों पर एक राय बनाने के लिए स्क्रीनिंग कमेटी के चेयरमैन अजय माकन ने देर शाम को पुन: बैठक की। इसमें हाट सीटों को छोड़ कर बाकी की उन सीटों पर विचार किया गया जहां पर दो या दो से अधिक मजबूत उम्मीदवार है। स्क्रीनिंग कमेटी चाहती थी कि हाट सीटों को छोड़ कर बाकी सभी पर एक राय बना ली जाए।

जानकारी के अनुसार स्क्रीनिंग कमेटी ने जो 70 नामों वाली लिस्ट सोनिया गांधी को सौंपी है उसमें तीन विधायकों की टिकट कटनी तय है। जैसा की उम्मीद थी कि कांग्रेस बड़े पैमाने पर विधायकों के टिकट काट सकती है लेकिन अब तस्वीर बदलती नजर आ रही है।

पहली लिस्ट में मलोट से विधायक व डिप्टी स्पीकर अजायब सिंह भट्टी की टिकट कटनी तय मानी जा रही है। पार्टी आम आदमी पार्टी छोड़ कर कांग्रेस में आई बठिंडा देहाती की विधायक रुपिंदर कौर रूबी को मलोट से टिकट दे सकती है। जबकि मोगा से डा. हरजोत कमल की टिकट कटनी तय है। पार्टी यहां से मालविका सूद को टिकट देने का मन बना चुकी है।

जानकारी के अनुसार सुजानपुर में पूर्व कैबिनेट मंत्री रघुनाथ सहाय पुरी के बेटे नरेश पुरी को लेकर जो पेंच फंसे थे वह निकल गए है। अब कांग्रेस नरेश पुरी को ही टिकट दे रही है। इसी प्रकार से जालंधर वेस्ट से विधायक सुशील रिंकू ही पार्टी के उम्मीदवार हो सकते है। इस सीट पर मोहिंदर सिंह केपी दावा ठोक रहे थे। लेकिन बदले हालात में अब केपी आदमपुर सीट से टिकट मांग रहे है।