अलीगढ लोकसभा : सिंधिया और हुड्डा ने चौ बिजेंद्र सिंह को जिताने का किया आव्हान, मोदी सरकार पर बोला हमला

अलीगढ | कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अलीगढ में कांग्रेस प्रत्याशी चौ बिजेंद्र सिंह को जिताने की अपील की और केंद्र से भाजपा को उखाड़ने का आव्हान किया | कांग्रेस के पश्चिमी यूपी प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि भाजपा व नरेंद्र मोदी को केवल कुर्सी की चिंता है, जबकि कांग्रेस को देश के भविष्य की चिंता है। 23 मई को देश में तूफान आने वाला है। इस बदलाव से देश की जनता के सच्चे दिनों की शुरुआत होगी।

अलीगढ़ के खैर में सोमवार को खुशीराम इंटर कॉलेज के सामने मैदान पर आयोजित पार्टी प्रत्याशी बिजेंद्र सिंह के समर्थन में आयोजित जनसभा में सिंधिया ने मोदी-योगी पर जमकर हमला बोला। सिंधिय ने किसानों की नब्ज टटोलते हुए कहा कि फसलों का लागत मूल्य कम करने व समर्थन मूल्य अधिक देने का वादा करने वाली भाजपा ने किसानों के आंसू तक नहीं पोंछे। उन्होंने कहा कि जनता ने सुखों की गर्मी, दुखों की बारिश व नोटबंदी की सर्दी भी देखी, लेकिन अच्छे दिन कभी नहीं दिखे। भाजपा सरकार पर तंज कसते हुए सिंधिया ने कहा कि खाद के भाव कांग्रेस के शासन में 400 रुपये कट्टा था। अब 1400 रुपये है। किसानों, नौजवानों व महिलाओं की सुरक्षा वाली नहीं, यह पान-पकौड़े वाली सरकार है। वेस्ट यूपी के सभी जिलों में पशुओं का आतंक है। किसान परेशान है, लेकिन सुनने वाला कोई नहीं है।

सिंधिया ने कहा कि बाबा साहब के नाम पर भाजपा ढोंग करती है। भाजपा के शासन में दलितों पर उत्पीड़न हुआ। मध्य प्रदेश में जनता ने शिवराज व मोदी का बोरिया बिस्तर बांध दिया। अब पूरे देश से जनता बोरिया बिस्तर बांधेंगी। जनता को जुमलेबाजों व सपनों के सौदागर की नहीं, बल्कि सपनों के निर्माण की सरकार चाहिए।

शहीद किसी राजनीतिक दल के नहीं पूरे देश के हैं : हुड्डा
हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह ने हुड्डा ने कहा कि भाजपा शहीदों के नाम पर वोट मांग रही है। शहीद किसी एक नेता व पार्टी का नहीं होता है बल्कि पूरे देश का होता है। भाजपा ने किसानों के साथ धोखा किया। 2014 में किसानों पर कर्जा कम था और आज किसानों को भुखमरी की कगार पर पहुंचा दिया है। किसान आलू को औने-पौन दाम में बेचने को मजबूर हुआ है। 2022 तक किसानों की आमदनी भाजपा कैसे बढ़ाएगी। भाजपा राष्ट्रवाद पर भी राजनीति कर रही है। कांग्रेस सत्ता में आई तो किसानों का कर्जा माफ होगा।