अखिलेश यादव पर असदुद्दीन ओवैसी का निशाना, बोले- ‘सिर्फ फेसबुक पर दिख रही समाजवादी पार्टी’

वाराणसी | आल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लेमीन (एआईएमआईएम) के राष्ट्रीय अध्यक्ष सांसद असदुद्दीन ओवैसी मंगलवार को पूर्वी यूपी के दौरे पर पहुंचे। अपनी इस यात्रा से उन्होंने अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव का बिगुल भी फूंक दिया। वैसे तो ओवैसी पूर्वांचल के चार जिलों में गए लेकिन उनका मुख्य कार्यक्रम सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ में था। पूरे दौरे के दौरान उनके निशाने पर समाजवादी पार्टी और अखिलेश यादव ही रहे। उन्होंने हर सीट पर अपने गठबंधन का प्रत्याशी उतारने की घोषणा भी की।

ओवैसी ने यूपी में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के साथ मिलकर भागीदारी संकल्प मोर्चा के गठबंधन के साथ चुनाव लड़ने का फैसला किया है। दौरे के दौरान उनके साथ सुभासपा के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर भी साथ-साथ रहे। ओवैसी ने अपने दौरे की शुुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से की। यहां के बाबतपुर एयरपोर्ट पर उनकी अगवानी करने के लिए बड़ी संख्या में सुभासपा और एआईएमआईएम के कार्यकर्ता पहुंचे। एयरपोर्ट से निकलते ही उन्होंने सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सपा की अखिलेश सरकार ने 12 बार यहां आने से उन्हें रोका था।

आजमगढ़ पहुंचने के बाद भी ओवैसी के निशाने पर अखिलेश और सपा ही रही। ओवैसी ने कहा कि भागीदारी संकल्प मोर्चा के बनने के बाद समाजवादी पार्टी जमीन पर कहीं है ही नहीं। सपा अब मात्र फेसबुक पर दिख रही। कहा कि 2022 के विधान सभा चुनाव में हम सारे विकल्प खुले रखेंगे। बातचीत के हिसाब से सीट का बंटवारा कर चुनाव लड़ेंगे। कहा कि आजमगढ़ से यूपी विधानसभा चुनाव का हमने बिगुल फूंका है। अब हम प्रदेश के कोने-कोने में जाकर अपना प्रचार करेंगे। इसके बाद हमारा अगला दौरा सहारनपुर में होगा।

आजमगढ़ में अपने प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली के निवास पर मीडिया से बातचीत में भाजपा पर कहा कि वह धर्म और जाति की राजनीति करती है। यही करके वह सत्ता में आई। हम भागीदारी की बात करते हैं। उनके साथ आए सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि हमारा आठ दलों का गठबंधन है। यूपी की सभी विधानसभाओं में हमारा गठबंधन प्रत्याशी उतारेगा। वाराणसी से आजमगढ़ जाते समय जौनपुर में भी उनका सैकड़ों की संख्या में जुटे युवाओं ने स्वागत किया। यहां गुरैनी स्थित मदरसे में पांच मिनट जलपान करने के बाद आवैसी दीदारगंज के रास्ते आजमगढ़ के माहुल पहुंचे।