RSS से जुड़ने में तत्परता दिखा रहे मुसलमान

लखनऊ। इसे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी के वर्किंग स्टाइल का असर कहा जाए या राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ RSS की कैंपेनिंग का कमाल कि इलाहाबाद क्षेत्र में पिछले दो महीनों में 700 से भी ज्यादा मुस्लिम युवकों ने RSS से जुड़ने के लिए संपर्क किया है। आरएसएस कार्यकर्ताओं का कहना है कि मुस्लिम समुदाय के कई युवकों ने संगठन और उसके काम के बारे में जानने के लिए उनसे संपर्क किया है। फिलहाल, सक्रिय या अस्थायी स्वयंसेवकों के तौर पर संगठन में 300 से ज्यादा मुस्लिम काम कर रहे हैं। बड़ी संख्या में पेशेवर अनुभव वाले युवक संगठन से जुड़ना चाहते हैं।
आरएसएस कार्यकर्ताओं ने कहा कि संगठन ने प्रयाग विभाग में शहरी, अर्ध-शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में हर समुदाय के लोगों तक पहुंचने की कोशिश की है। संगठन की बढ़ती सदस्यता के साथ पिछले 3 सालों में आरएसएस शाखाओं की ताकत और मजबूत हुई है और सभी समुदाय के लोग खासकर महिलाएं शाखाओं में हिस्सा लेने के लिए आगे आ रही हैं। विभाग प्रचारक मनोज कुमार ने कहा, ‘मुस्लिम समुदाय के लोग भी आरएसएस से जुड़ना चाहते हैं और उसके लिए सक्रिय रूप से काम करना चाहते हैं। कुछ मुस्लिम युवक तो नियमित रूप से शाखाओं में हिस्सा ले रहे हैं।’
-एजेंसी