चौ चरण सिंह की विचारधारा को खत्म करना चाहता है आरएसएस, RLD को इगलास जिताना जरूरी

अलीगढ़ । लोकसभा चुनाव के नतीजों में हार के बाद इगलास विधानसभा उपचुनाव के लिए राष्ट्रीय लोकदल ने जमीनी स्तर पर कार्यकर्ताओं की नब्ज टटोलना शुरू कर दिया है । रालोद के प्रदेश अध्यक्ष पूर्व शिक्षा मंत्री डॉ मसूद अहमद ने जुलाई माह में ही अलीगढ़ के दो दौरे किये हैं।  बूथ से लेकर यूथ तक मजबूत किया जा रहा है और जयंत चौधरी को हर स्थिति की जानकारी दी जा रही है ।

मौसम खराब होने के बावजूद रालोद प्रदेश अध्यक्ष गोंडा क्षेत्र के गांव तलेसरा किसानों की बैठक में पहुंचे और भाजपा व आरएसएस पर जमकर निशाना साधा ।डॉ मसूद अहमद ने कहा कि लोकसभा चुनाव में किसान-मजदूर जुमलेबाजी और कथित राष्ट्रभक्ति के झांसे में आ गया था लेकिन अब उसे गलती का एहसास हो रहा है । उन्होंने कहा कि इगलास विधानसभा उपचुनाव सिर्फ चुनाव नहीं बल्कि पार्टी और विचारधारा बचाने का युद्ध है । भाजपा हमारी विचारधारा मिटाना चाहती है, चौधरी समाज के लोगों को सियासत से उखाड़ना चाहती है इसके मंसूबे समझिए , इनसे सावधान रहिये । उन्होंने कहा कि देश का किसान और गरीब अब इगलास उपचुनाव पर निगाहें लगाए है, आपको भाजपा को हराकर इनकी उम्मीदे पूरी करनी है।  उन्होंने चौधरियों से कहा कि भाजपा मुस्लिमो से ज्यादा जाटों की दुश्मन है। रालोद प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि आरएसएस और मोदी सरकार मुद्दों से ध्यान हटाकर धर्म-जाति में बांटे हुए है ताकि उसके मंसूबे सफल हो सके । उन्होंने इगलास उपचुनाव में प्रत्येक किसान, नौजवान और मजदूर से रालोद के लिए कार्य करने का आव्हान किया ।

बैठक को पूर्व विधायक भगवती प्रसाद, नवाब सिंह छोंकर, प्रवक्ता जियाउर्रहमान, महानगर अध्यक्ष अनीस चौहान, जिलाध्यक्ष रामबहादुर चौधरी, सीपी सिंह धनगर, फूल सिंह धनगर, ओमवीर सिंह दिवाकर, बीएल प्रेमी, रामवीर सिंह, मास्टर केवल सिंह में भी संबोधित किया ।संचालन चौ रामवीर सिंह ने किया । इस अवसर पर पूर्व विधायक भगवती प्रसाद, नवाब सिंह छोंकर, प्रवक्ता जियाउर्रहमान, महानगर अध्यक्ष अनीस चौहान, जिलाध्यक्ष रामबहादुर चौधरी, सीपी सिंह धनगर, फूल सिंह धनगर, ओमवीर सिंह दिवाकर, बीएल प्रेमी, रामवीर सिंह, मास्टर केवल सिंह, धर्मवीर सिंह, संजीव सूर्यवंशी, अमित ठेनुआ, राजेश चौौधरी, सुुुमन , नीरज कुमार , नेेत्रपाल  आदि मौजूूद रहे ।