राष्ट्रपति चुनाव में अल-सीसी को चुनौती देंगे मानवाधिकार वकील

काहिरा। मिस्र के मानवाधिकार वकील खालिद अली ने 2018 के चुनाव में राष्ट्रपति अब्देल-फतह अल-सीसी को चुनौती देने की घोषणा की है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, अली ने सोमवार को एक संवाददाता सम्मेलन में बताया, “हमने आज राष्ट्रपति चुनाव में मेरी उम्मीदवारी की तैयारी करने के लिए प्रचार अभियान शुरू करने का फैसला किया है। वकील को अदालत के एक आदेश के बाद कथित रूप से हाथ से अशिष्ट और अश्लील इशारा करने के मामले में सितंबर में तीन महीने जेल की सजा सुनाई गई थी,

जिसके लिए वह पहले ही अपील कर चुके हैं। लेकिन इसके कारण अभी भी राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में उन्हें अयोग्य ठहराए जाने की संभावना है। अली उन प्रमुख लोगों में से एक रहे हैं जिन्होंने इस साल की शुरुआत में मिस्र द्वारा लाल सागर के दो विवादित द्वीपों तिरान और सनाफिर को सऊदी अरब को सौंपने का विरोध किया था। मानवाधिकार वकील इससे पहले 2012 का राष्ट्रपति चुनाव भी लड़ चुके हैं।