रेप पर बोले केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार, रोकी नहीं जा सकतीं ऐसी घटनाएं

नई दिल्ली | केंद्रीय श्रम और रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने देश में बढ़ती रेप की घटनाओं पर गैरजिम्मेदाराना बयान दिया है संतोष गंगवार ने कहा है कि एक-दो घटनाओं का बतंगड़ बनाना ठीक नहीं है. सिर्फ इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाओं को रोका नहीं जा सकता केंद्रीय मंत्री का ये बयान ऐसे समय आया है जब देश में कठुआ और उन्नाव की घटना को लेकर प्रदर्शन हो रहे हैं केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार कहना है, ‘’इतने बड़े देश में एक दो घटनाएं हो जाए तो उसका बतंगड़ बनाकर काम किया जाना उचित नहीं है संतोष यही नहीं रुके उन्होंने कहा की ऐसी घटनाओं को रोका नहीं जा सकता उन्होंने कहा की ऐसी घटनायें दुर्भाग्यपूर्ण स्थति में होती है और सरकार इस पर उचित कदम उठा रही है नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़ों के मुताबिक साल 2016 में 38,947 बलात्कार की घटनाएं हुई हैं इसका मतलब हुआ कि देश में हर रोज 107 बलात्कार की घटनाए होती हैं यानी हर घंटे चार महिलाओं के साथ बलात्कार होता है वहीं उम्र के हिसाब से साल 2016 में 12 साल से छोटी 2116 बच्चियों को वहशियों ने अपना शिकार बनाया है यानी औसतन पांच से ज्यादा बच्चियां किसी बलात्कार का शिकार हुईं !

कांग्रेस नेता और पूर्व राज्यसभा सांसद रेणुका चौधरी ने कहा है कि जब कोई लड़की रेप की शिकायत लेकर थाने पहुंचती है तो उससे पूछा जाता है कितने आदमी थे उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि वह इस माहौल में विदेश में घूम रहे हैं महिलाओं का सम्मान क्या होता है उन्हें यह नहीं पता है वह महिला विरोधी पीएम हैं रेणुका चौधरी ने कहा “इस माहौल में देश के प्रधानमंत्री को विदेश जाने का बड़ा शौक है मगर कभी आकर इन परिवारों से उनकी मां से पूछा तक नहीं कि क्या हुआ कैसे हुआ और क्यों हुआ क्यों हुआ का जवाब तो देते हैं कहते हैं कि औरत का कसूर है उन्हीं की वजह से हुआ है बता दें कि जम्मू के कठुआ और उत्तर प्रदेश के उन्नाव गैंगरेप केस के बाद से मोदी सरकार के खिलाफ लोग गुस्सा व्यक्त कर रहे हैं इस बीच सरकार ने शनिवार को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में 12 साल से कम उम्र की बच्चियों के साथ रेप करने वालों के लिए मृत्युदंड के प्रावधान वाले अध्यादेश को मंजूरी दी है !