सपा सांसद आजम खान की जौहर यूनिवर्सिटी का रामपुर प्रशासन ने किया अधिग्रहण, ये है बड़ी वजह-

लखनऊ । कोरोना से जंग के लिए अब प्रशासन ने जौहर यूनिवर्सिटी को भी अधिग्रहीत कर लिया है। जरूरत पड़ने पर कोरोना के संदिग्ध मरीजों को यहां पर क्वारांटाइन में रखा जाएगा। इसके साथ ही अन्य निजी अस्पताल भी अधिग्रहीत किए गए हैं।

कोरोना से जंग के लिए प्रशासन ने अपने स्तर से तैयारियां तेज कर दी हैं। रामपुर में छह पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद प्रशासन ने अपनी गतिविधियों को तेज कर दिया है। प्रशासन अब निजी अस्पतालों को भी इलाज के लिए रिजर्व में रख लिया है। इसके लिए उनका अधिग्रहण भी कर दिया है। प्रशासन ने सपा सांसद आजम खां की जौहर यूनिवर्सिटी व मेडिकल कॉलेज को भी अधिग्रहीत करते हुए यहां पर संदिग्धों को क्वारांटाइन में रखने का प्रबंध किया गया है।

इसके अलावा निजी अस्पतालों का भी अधिग्रहण किया है। जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने बताया कि जरूरत पड़ने पर जौहर यूनिवर्सिटी को क्वारांटाइन सेंटर में तब्दील किया जाएगा। इसके अलावा निजी अस्पतालों का भी अधिग्रहण किया गया है।

कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। रामपुर के टांडा में पांच कोरोना संक्रमित सामने आ चुके हैं। जबकि एक भोट क्षेत्र के इंड्रा गांव से एक युवक का कोराना टेस्ट पॉजिटिव आया है। ऐसे में सतर्कता और बरती जा रही है। साथ ही चिकित्सा विभाग की ओर से किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए तैयारियां की जा रही हैं। जिला अस्पताल के साथ ही जिले के निजी चिकित्सालयों को भी अधिग्रहीत किया जा रहा है, जहां कोरोना संक्रमितों को रखा जा सके और उनका उपचार किया जा सके।

रामपुर डीएम आन्जनेय कुमार सिंह ने कहा कि कोरोना से निपटने के लिए प्रशासनिक तैयारियां पूरी हैं। जरूरत पड़ने पर जौहर यूनिवर्सिटी को क्वारांटाइन सेंटर में तब्दील किया जाएगा। जौहर विवि, जौहर अस्पताल के अलावा निजी अस्पतालों का भी अधिग्रहण किया गया है।

अधिग्रहीत किए गए संस्थान
-जौहर यूनिवर्सिटी
-सहारा अस्पताल
-जौहर अस्पताल
-केडी डालमियांअस्पताल
-नोवा अस्पताल
-राहत अस्पताल
-सेवा नर्सिंग होम
-पब्लिक अस्पताल
-वीपी हेल्थ केयर अस्पताल
-जेआर अस्पताल
-नारायण अस्पताल।