कांग्रेस का मोदी पर तंज – ‘भक्ति पर सिर्फ मोदी का अधिकार नहीं’

कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी के गुजरात दौरे का आज दूसरा दिन है राहुल आज बनासकांठा पहुंचे और सोशल मीडिया पर कांग्रेस का कैंपेन संभाल रहे कार्यकर्ताओं से मुलाकात की बनासकांठा में आज वह एक बार फिर मंदिर दर्शन करेंगे इसके साथ ही चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे। गुजरात चुनाव के लिहाज से रविवार का दिल इसलिए भी खास है कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी आज बनासकांठा में होंगे जहां वह पार्टी कार्यकर्ताओं और अधिकारियों से मुलाकात करेंगे।
गौरतलब है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुजरात विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सूबे के ताबड़तोड़ दौरे कर रहे हैं शनिवार को एक बार फिर राहुल तीन दिवसीय गुजरात दौरे पर पहुंच गए हैं इस बार वह उत्तर गुजरात का दौरा कर रहे हैं यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का गढ़ माना जाता है। बीजेपी ने राहुल गांधी के मंदिर जाने पर सवाल उठाए हैं बीजेपी का कहना है कि राहुल सिर्फ गुजरात चुनाव में सियासी फायदे के लिए मंदिर जा रहे हैं वहीं कांग्रेस ने इस पर जबरदस्त पलटवार किया है कांग्रेस ने जवाब में कहा है कि भक्ति पर सिर्फ मोदी का अधिकार नहीं है।
राहुल गांधी ने शनिवार को अपने दौरे की शुरुआत मंदिर जाकर की सबसे पहले वो गांधीनगर के अक्षरधाम मंदिर गए और वहां करीब 15 मिनट तक रहे मंदिर में उन्होंने पहले तिलक लगाकर पूजा अर्चना की इसके अलावा उन्होंने प्रसिद्ध अंबाजी मंदिर में भी पूजा अर्चना की राहुल के मंदिर दौरे के दौरान उनके साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भी मौजूद रहे।
राहुल गांधी के मंदिर दौरों ने गुजरात में राजनीति तेज कर दी है सत्तारुढ़ बीजेपी आरोप लगा रही है कि कांग्रेस ये सब सिर्फ और सिर्फ वोटों की खातिर कर रही है कांग्रेस ने इस पर पलटवार करते हुए कहा कि धर्म पर सिर्फ बीजेपी का ‘पेटेंट’ नहीं है। राहुल गांधी सुबह 10 बजे होटल पहुंच जाएंगे बनासकांठा में राहुल गांधी तीन जनसभाओं को संबोधित करेंगे और शाम करीब 6 बजे पाटन पुहंचेंगे पाटन के प्रगति मैदान में भी उनको एक जनसभा को संबोधित करना है। राहुल गांधी अपने गुजरात दौरे के दूसरे दिन रविवार को वादीनाथ मंदिर जाएंगे और पूजा अर्चना करेंगे इसके बाद बनासकांठा और पाटन में लोगों से मुलाकात करेंगे बनासकांठा में राहुल गांधी अंबाजी इंटरनेशनल होटल में गुजरात चुनाव में लगी कांग्रेस की सोशल मीडिया और आईटी टीम से भी बातचीत करेंगे