भारत और बांग्लादेश के प्रधानमंत्रियों की मुलाकात, द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाने पर होगी चर्चा

नई दिल्ली। भारत और बांग्लादेश के प्रधानमंत्रियों की शनिवार को तय मुलाकात के दौरान परिवहन, संपर्क, क्षमतावर्धन और संस्कृति के क्षेत्र में छह- सात समझौतों पर हस्ताक्षर हो सकते हैं। इस दौरान दोनों नेताओं के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाने पर भी चर्चा होगी।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपनी बांग्लादेशी समकक्ष शेख हसीना के साथ मिलकर शनिवार को तीन परियोजनाओं का उद्घाटन भी करेंगे। हालांकि उन्होंने इस संबंध में विस्तृत जानकारी नहीं दी।

कुमार ने कहा, ‘संबंध (भारत और बांग्लादेश के बीच) इतने करीबी कभी नहीं रहे। ऐसे में बातचीत का मुख्य मुद्दा द्विपक्षीय संबंध ही रहेगा। जब मैं द्विपक्षीय संबंध कह रहा हूं तो उसका अर्थ है, अब दोनों देशों को अपने संबंधों को नया आयाम देने की ओर बढ़ना चाहिए।

उन्होंने कहा कि बातचीत में व्यापार, संपर्क, विकास में सहयोग, लोगों के बीच आपसी संपर्क, संस्कृति और परस्पर हित के अन्य मुद्दों पर चर्चा होगी। राष्ट्रीय नागरिक पंजी के मुद्दे पर कुमार ने कहा कि यह उच्चतम न्यायालय के आदेश पर शुरु हुआ है और फिलहाल जारी है।

कुमार ने कहा, ”विदेश मंत्रालय की ओर से फिलहाल इस स्तर पर मैं कुछ नहीं कह सकता। मुझे लगता है, यह समझना जरुरी है कि तय प्रक्रिया का पहले पूरा होना आवश्यक है। उस स्तर तक पहुंचने से पहले आपके पास अपील करने का अधिकार है।