योगी आदित्यनाथ ने कहा- ‘पुलिस का जनता से सीधे होना चाहिए संवाद’

नोएडा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कहा कि उत्तर प्रदेश में हर क्षेत्र में परिवर्तन देखने को मिल रहा है, पहले जहां राज्य में उद्यमी निवेश करने से कतराते थे, अब वहीं में लाखों करोड़ों रूपये का निवेश हो रहा है। उन्होंने यहां सेक्टर- 108 स्थित पुलिस कमिश्नर ऑफिस के उद्घाटन अवसर पर यह बात कही। उन्होंने कहा कि विकास का कोई विकल्प नहीं हो सकता और इसके लिए युवा पीढ़ी को तैयार करना होगा। उन्होंने कहा कि सकारात्मक पहल की वजह से जेवर के किसानों ने एयरपोर्ट के लिए स्वेच्छा से जमीन दी और हवाई अड्डा बनने से इस क्षेत्र का आमूलचूल विकास होगा तथा यह क्षेत्र दुनिया का सबसे सुंदर व विकसित शहर बनेगा। उन्होंने कहा कि एशिया का सबसे बड़ा हवाई अड्डा ग्रेटर नोएडा में बन रहा है, जिसकी वजह से यहां पर विकास की बयार बहेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस को जनता से सीधे संवाद होना चाहिए। उन्होंने कहा कि नोएडा, ग्रेटर नोएडा में बड़ी संख्या में महिलाएं, बालिकाएं विभिन्न सेक्टरों में काम करती है, उन्हें अलग-अलग शिफ्ट में काम करना पड़ता है, उनकी सुरक्षा को ध्यान में रखकर यहां की पुलिस व्यवस्था बेहतर करनी होगी। उन्होंने कहा कि साइबर अपराध यहां की एक बढ़ती हुई समस्या है जिसके लिए अलग से साइबर थाने खोले जा रहे हैं तथा साइबर अपराधों की विवेचना करने वाले पुलिसकर्मियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में पुलिस बल की भारी कमी है और इस संबंध में 1,37,000 नए पुलिस कर्मियों की भर्ती हुई है तथा पुलिस की ट्रेनिंग क्षमता को दोगुना किया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस फॉरेंसिक विश्वविद्यालय का निर्माण जल्द ही उत्तर प्रदेश में किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी क्षेत्रों में आबादी बढ़ी है, अपराध की प्रबृति भीबदली है, इसको देखते हुए हमें रणनीति तय करनी होगी। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद कानून व्यवस्था की स्थिति सुदृढ़ हुई है, जिसकी वजह से उत्तर प्रदेश में निवेशक सम्मेलन में चार लाख करोड़ से ज्यादा का निवेश हुआ है। उन्होंने कहा कि पहले उत्तर प्रदेश में उद्योगपति पैसा नहीं लगाना चाहते थे, लेकिन अब वह उत्तर प्रदेश में निवेश करना चाहते हैं। यह उत्तर प्रदेश की सुदृढ़ कानून व्यवस्था का ही परिणाम है।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में स्मार्ट पुलिसिंग एवं स्मार्ट सिटी को ध्यान में रखकर व्यवस्थाएं लागू की जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जनप्रतिनिधि, जिला प्रशासन के अधिकारी, तथा पुलिस के अधिकारी अगर एक साथ मिलकर प्रयास करें तो कानून व्यवस्था और भी सुदृढ़ हो सकती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि 23 करोड़ की जनता की सुरक्षा, शांति व समृद्धि के लिए जो भी कदम उठाने पड़ेंगे वह उठाएंगे।