इश्क़ करने पर पाकिस्तानी जिरगा ने महिला को दी मौत, पत्थरों से मरवाया, 2 गिरफ्तार

लाहौर। पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में कथित रूप से विवाहेत्तर संबंध रखने, अपने प्रेमी से गर्भधारण करने और उसके साथ भागने के मामले में एक महिला को पत्थर मारकर मौत की सजा सुनाने वाली जिरगा के दो सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। प्राथमिकी के अनुसार, लाहौर से करीब 400 किलोमीटर दूर मुजफ्फरगढ़ में छह सदस्यीय जिरगा ने कुछ समय पहले हुई अपनी बैठक में महिला को पत्थर मारकर मौत की सजा ‘कारो कारी’ सुनाई। महिला नौ बच्चों की मां है। ‘कारो कारी’ की परंपरा के तहत परिवार के सम्मान के नाम पर महिला की पत्थर मारकर कर हत्या की जाती है।

पुलिस ने जिरगा के दो सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है और अन्य सदस्यों की तलाश जारी है। पुलिस अधिकारी मेहर रियाज हुसैन ने बताया कि महिला अपने पड़ोसी नूर शाह के साथ विवाहेत्तर संबंध रखकर उससे गर्भवती हुई और उसके साथ भाग गई। उन्होंने बताया कि गांव के कुछ लोगों ने शाह को पकड़ा और पिछले साल जून में उसे वापस ले आए। बाद में शाह को मौत की सजा सुनाई गई और उसे मार दिया गया। पुलिस अधिकारी ने बताया कि बाद में महिला को भी पकड़ लिया गया और जिरगा ने बच्चे के जन्म के बाद महिला को पत्थर मारकर मौत की सजा सुनाई। जिरगा के सदस्यों के खिलाफ पाकिस्तान दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। हुसैन ने बताया कि महिला को सुरक्षा मुहैया कराई गई है।