लोकसभा चुनाव परिणाम से पहले एकजुट हुए विपक्षी दल, कांग्रेस, सपा, TDP और बसपा भी हुए शामिल

नई दिल्ली । लोकसभा चुनाव के नतीजों की घोषणा से पहले मंगलवार को दिल्ली के कंस्टीट्यूशन क्लब में 19 विपक्षी दलों के नेताओं ने बैठक की। इस बैठक में कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद, सपा नेता रामगोपाल यादव, टीडीपी नेता चंद्रबाबू नायडू , बसा से सांसद सतीश चंद्र मिश्रा आदि समेत कई दिग्गज नेता मौजूद रहे। इन सभी नेताओं ने राजनीतिक हालात पर तथा सरकार बनाने के दावे के लिए गैर-राजग गठबंधन बनाने की संभावनाओं पर चर्चा के लिए बैठक की ।

इससे पहले विपक्ष को एकजुट करने के प्रयास के तहत आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और तेलुगूदेशम पार्टी के नेता एन चंद्रबाबू नायडू ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ उनके कोलकाता स्थित आवास पर बैठक की और त्रिशंकु परिणाम की स्थिति में केंद्र में गैर-भाजपाई सरकार बनाने की संभावना पर उनसे चर्चा की थी। नायडू ने ‘महागठबंधन की भविष्य की रणनीति पर बनर्जी के साथ 45 मिनट तक बातचीत की थी जिस दौरान उन्होंने कांग्रेस के समर्थन से क्षेत्रीय दलों के साथ गैर-भाजपाई सरकार बनाने की संभावना पर गुफ्तगू की।

नायडू ने सोमवार को भी बनर्जी से मुलाकात की थी। रविवार को वह संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी तथा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से नयी दिल्ली में अलग-अलग मिले। उन्होंने राकांपा अध्यक्ष शरद पवार, बसपा अध्यक्ष मायावती और आप संयोजक अरविंद केजरीवाल से भी चर्चा की। इस बीच अखिलेश और मायावती ने भी मुलाकात की और आगे के लिए अपनी रणनीति तय की थी।

लोकसभा चुनाव के लिए सात चरण में मतदान हुआ है और 23 मई को मतगणना होगी। वहीं, कांग्रेस नेताओं ने सोनिया गांधी के दिशानिर्देश में शनिवार को बैठक की थी जहां मौजूदा राजनीतिक हालात पर चर्चा की गयी।