गार्गी कॉलेज में छेड़छाड़ : अरविंद केजरीवाल बोले- ‘बेटियों से बदसलूकी कतई बर्दाश्त नहीं’

नई दिल्ली | दिल्ली यूनिवर्सिटी के गार्गी कॉलेज की छात्राओं के साथ एनुअल फेस्ट के दौरान युवकों के एक ग्रुप द्वारा कथित छेड़छाड़ की घटना की जांच दिल्ली पुलिस ने शुरू कर दी है। यह मामला सोमवार को संसद में भी उठा और राष्ट्रीय महिला आयोग की टीम भी मामले की जांच के लिए कॉलेज पहुंची। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी इस मामले पर ट्वीट करके चिंता जाहिर की है। केजरीवाल ने कहा है कि गार्गी कॉलेज में हमारी बेटियों के साथ बदसलूकी बेहद दुखद और निराशाजनक है। इसे क़तई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। दोषियों को पकड़ कर सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए। और ये सुनिश्चित हो कि हमारे कॉलेजों में पढ़ने वाले बच्चे सुरक्षित हों।

सोशल मीडिया पोस्ट के अनुसार छह फरवरी को कॉलेज फेस्ट ‘रेवरी’ के दौरान शाम करीब साढ़े छह बजे नशे में धुत पुरुषों के समूह ने कॉलेज के प्रवेश द्वार पर धावा बोल दिया और अंदर घुस गए। छात्राओं ने आरोप लगाया कि ‘रैपिड एक्शन फोर्स’ और दिल्ली पुलिस के जवान वहीं गेट के पास तैनात थे, जहां से ये पुरुष कथित तौर पर अंदर आए।

दिल्ली पुलिस ने बताया कि उसने मामले जांच शुरू कर दी है और सीसीटीवी फुटेज भी देखी जा रही है। वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पुलिस को हालांकि इस संबंध में अभी तक कोई शिकायत नहीं मिली है। गार्गी कॉलेज के गेट के बाहर सोमवार को 100 से अधिक छात्राओं ने इस संबंध में प्रदर्शन किया। छात्राओं और शिक्षकों ने इस घटना के संबंध में सोशल मीडिया पर भी जानकारी साझा की थी।