निकाय चुनाव में EVM से धांधली के आरोप पर योगी ने BSP को करारा जवाब…

लखनऊ। शुक्रवार को निकाय चुनाव के नतीजे आने के बाद मायावती ने आरोप लगाए थे कि ईवीएम में धांधली कर भाजपा ने मेयर के पद पर जीत हासिल की है। उन्होंने मांग की थी कि 2019 के चुनाव यूपी निकाय चुनाव नतीजों पर मायावती ने शनिवार ( 2 दिसंबर) को कहा था बीजेपी ने सरकारी मशीनरी का इस्तेमाल किया नहीं तो बीएसपी के और मेयर जीतते। निकाय चुनाव में ईवीएम से धांधली करने के आरोप पर सीएम योगी ने बीएसपी को करारा जवाब दिया है।

मायावती के आरोप पर जवाब देते हुए उन्होंने कहा अगर ईवीएम में खराबी है तो मायावती अपने जीते हुए मेयरों से इस्तीफा दिला दें। उन जगहों पर फिर से बैलेट पेपर से चुनाव करा लेंगे। BSP के जीते हैं दो मेयर…
बता दें कि अभी हाल में ही हुए निकाय चुनाव में बीएसपी के दो मेयर (अलीगढ़ और मेरठ) चुने गए हैं। जबकि 16 नगर निगम में से 14 में बीजेपी ने जीत दर्ज की है। सीएम योगी आदित्यनाथ रविवार को भाजपा मुख्यालय में मेयरों के अभिनंदन कार्यक्रम के दौरान सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा उन्हें आश्चर्य है कि जो लोग ईवीएम से जीते हुए लोग हैं वही ईवीएम पर सवाल उठा रहे हैं।

मायावती ने दिया था ये बयान अगर 2019 का लोकसभा चुनाव बैलट पेपर से कराएं तो दावे के साथ कह सकती हूं कि बीजेपी हार होगी।
उन्होंने ये भी कहा अगर बीजेपी ये दावा कर रही है कि उन्हें बहुमत मिला और देश की जनता उनके साथ है तो ईवीएम को हटाओ और बैटल पेपर से चुनाव कराओ। मैं भरोसे के साथ कहती हूं कि अगर 2019 के लोकसभा चुनाव में बैलट पेपर का इस्तेमाल किया जाए तो बीजेपी की हार होगी। वहीं सपा नेता आजम खान ने कहा कि चुनाव में कोई टेम्परिंग नहीं सेटिंग हुई है। जहां ईवीएम थी बीजेपी जीती और जहां बैलट पेपर से वोट डाले गए सपा की जीत हुई।