सत्ता की दलाली के लिए बदनाम अमर सिंह भाजपा से नजदीकियां बढाने में जुटे !

नई दिल्ली। सपा से निकाले गए अमर सिंह अब भाजपा में पैठ बनाने की फ़िराक में हैं | अमर सिंह ने भाजपा में घुसने की कोशिशें भी तेज कर दी हैं।  बीजेपी में आने के लिए अमर सिंह आरएसएस से भी नजदीकियां बड़ा रहे हैं |  इसके लिए वह आरएसएस के कार्यक्रमों में फंडिंग भी करने लगे हैं। अमर सिंह ने संघ के अनुषांगिक संगठनों के कार्यक्रमों को फाइनेंस  करना भी शुरू कर दिए हैं। सत्ता की दलाली के लिए बदनाम रहे अमर सिंह पर अब संघ और भाजपा के नेता सचमुच में मेहरबान होते हैं या नहीं  यह वक्त बताएगा। हालांकि अमर सिंह कोई मौका नहीं छोड़ रहे। आपको बताते चलें कि  महाराणा प्रताप ने जिस हल्दीघाटी में युद्ध किया था, उससे 25 किमी और उदयपुर के पास महाराणा प्रताप गौरव केंद्र की ओर ऊंची प्रतिमा स्थापित हुई है।

खबर आ रही है कि  यहां विश्व की सबसे बड़ी महाराणा प्रताप की अष्टधातु की मूर्ति स्थापित हुई है । 57 फीट ऊंची इस प्रतिमा का वजन 40 हजार किलो है। इसके लिए राज्यसभा सांसद अमर सिंह ने 51 लाख रुपये दान किए। वहीं जी नेटवर्क के मालिक सुभाष चंद्रा ने भी एक करोड़ रुपये दिये हैं । सूत्र बताते हैं कि यह कार्यक्रम संघ के राष्ट्रीय सेवा भारती की ओर से आयोजित हुआ। जिसमें राष्ट्रीय सेवा भारती के राष्ट्रीय महामंत्री आरपी डडवाल और क्षेत्रीय संघचालक भगवता प्रसाद वर्मा मौजूद रहे।