राहुल ने दिया गरीबी हटाओ का नारा, प्रणब मुखर्जी ने कहा- गरीबी हटाने में समय लगेगा

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव को देखते हुए कांग्रेस का घोषणा पत्र जारी हो गया है। इस पत्र में लोगों को 72 हजार देने का वादा किया गया है। कांग्रेस ने अपने पुराने मंत्र ‘गरीबी हटाओ’ को फिर से दोहराया है। बता दें कि यह नारा कांग्रेस में इंदिरा गांधी के जमाने से चला आ रहा है।वैसे राहुल गांधी भले ही गरीबी हटाओ का नारा बुलंद कर रहे हों लेकिन देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने देश में फैली गरीबी को लेकर कहा कि, देश से गरीबी जाने के लिए अभी लंबा रास्ता तय करना है। उन्होंने यह बातें सोमवार को एक कार्यक्रम में उद्योगपतियों को संबोधित करते हुए कही।

उन्होंने उद्योगपतियों से लोगों को गरीबी से बाहर निकालने में मदद करने की बात कही। प्रणब मुखर्जी ने कहा, ‘अवास्तविक बहादुरी इस देश का नेतृत्व नहीं कर सकती है। भारत को ऐसे नेताओं की जरूरत है जो बढ़ती अपेक्षाओं को पूरा कर सकें। देश को गरीबी से मुक्ति पाने के लिए अभी बहुत लंबा रास्ता तय करना है।’पूर्व राष्ट्रपति ने कहा, ‘स्थिति तब चिंताजनक हो जाती है यदि कोई यह देखे कि देश के कुल धन का 60 फीसदी से अधिक हिस्सा आबादी के एक प्रतिशत लोगों के पास है। यह आंकड़े हमारे लिए बोझ हैं। साथ ही आंकड़े यह भी बताते हैं कि हमारी वृद्धि को और अधिक समावेशी और समान होने की जरूरत है। जो लोग पीछे छूट गए हैं उन्हें विकास के दायरे में लाने की जरूरत है।’