विधानसभा चुनाव 2022: कांग्रेस की सूची में मुस्‍ल‍िम-ब्राह्मण बराबर, महिलाओं के बाद सबसे ज्‍यादा दलित उम्‍मीदवार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में कांग्रेस पार्टी प्रियंका गांधी के नेतृत्व में चुनाव लड़ रही है। प्रियंका गांधी की कोशिश उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की खोई जमीन को दोबारा से हासिल करना है। इसके लिए प्रियंका गांधी ने प्रदेश की आधी आबादी (महिलाओं) पर बड़ा दांव लगाते हुए चुनाव में 40% टिकट महिलाओं को देने की बात कही थी। कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश की 403 विधानसभा सीटों में से 400 सीटों पर अपने प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं। 40% टिकट (159) महिलाओं को दिए गए हैं।

कांग्रेस पार्टी ने अन्य सभी पार्टियों की तरह जातिगत समीकरण का भी पूरा ध्यान रखा है। उत्तर प्रदेश में कांग्रेस महिलाओं के साथ- साथ दलितों को भी अपने साथ लाने की कोशिश कर रही है। कांग्रेस ने कुल उम्मीदवारों में से 22.3 फीसदी टिकट दलित उम्मीदवारों को दिए हैं। जबकि पिछड़ा वर्ग को 21.8 फीसदी टिकट दिए हैं। उसके बाद ब्राह्मण और मुस्लिम उम्मीदवारों को 18.8 एवं 18.8 फीसदी टिकट दिए हैं। जबकि 12.5 फीसदी टिकट ठाकुर उम्मीदवारों को दिए हैं। बाकी बचे 5.5 फीसदी टिकट अन्य जातियों के उम्मीदवारों को दिए हैं।

कांग्रेस ने कुल उम्मीदवारों में से 75 ब्राह्मण उम्मीदवारों को टिकट दिया है। भाजपा का वोट बैंक नहीं माने जाने वाले मुस्लिम समाज को भी कांग्रेस ने खूब तरजीह दी है। कांग्रेस ने कुल 75 मुस्लिम उम्मीदवारों को अपना टिकट दिया है।

प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद महिलाओं को नौकरियों में 40 फ़ीसदी आरक्षण देने की बात भी कही है। इसके साथ ही प्रियंका गांधी ने किसानों को कांग्रेस से जुड़ने के लिए गन्‍ना के समर्थन मूल्य को 400 रुपए प्रति कुंतल और गेहूं व धान की खरीद को 500 रुपए प्रति कुंतल करने का वादा किया है।