2 साधुओं का हत्यारा मुरारी गिरफ्तार, बुलन्दशहर पुलिस ने चंद घण्टों में किया खुलासा

जियाउर्रहमान/ बुलन्दशहर । जिले के अनूपशहर क्षेत्र के ग़ांव पगोना में मंगलवार सुबह मंदिर में 2 साधुओं की हत्या से देशभर में सनसनी फैल गयी । महाराष्ट्र में पालघर कांड के बाद चर्चा में साधुओं की हत्या से लखनऊ और दिल्ली तक हड़कंप मच गया । बुलन्दशहर पुलिस ने इलाके में भारी फोर्स तैनात कर दिया । एसएसपी संतोष कुमार सिंह के सक्रिय होते ही चंद घंटों में पुलिस ने मामले का खुलासा कर दिया है। बुलंदशहर पुलिस के खुलासे की देशभर में सराहना हो रही है ।

बुलंदशहर पुलिस ने साधुओं के हत्यारे ग़ांव के ही मुरारी उर्फ राजू को तलवार के साथ गिरफ्तार कर लिया है । एसएसपी बुलंदशहर संतोष कुमार सिंह ने बताया कि साधुओं के हत्यारे को गिरफ्तार कर लिया है, वह नशे की हालत में अर्दनग्न अवस्था मे मिला है । पूछताछ जारी है । उन्होंने बताया कि हालात सामान्य हैं । प्रारम्भिक जांच में साधुओं और युवक के बीच विवाद का मामला सामने आया है ।

बताते चलें क बुलंदशहर के अनूपशहर कोतवाली के गांव पगोना में स्थित शिव मंदिर पर पिछले करीब 10 वर्षों से साधु जगनदास (55 वर्ष) और सेवादास (35 वर्ष) रहते थे। दोनों साधु मंदिर में रहकर पूजा-अर्चना में लीन रहते थे। सोमवार की देर रात मंदिर परिसर में ही दोनों साधुओं की धारदार हथियारों से प्रहार कर हत्या कर दी गई। मंगलवार सुबह जब ग्रामीण मंदिर में पहुंचे तो उन्हें साधुओं के खून से लथपथ शव पड़े मिले।