मप्र : मृतक किसानों के परिवार से मिलने बाइक से जा रहे राहुल गांधी

मंदसौर। मध्य प्रदेश के मंदसौर में पुलिस गोलीबारी में मारे गए किसानों के परिजनों से मुलाकात करने के लिए कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी आज (गुरुवार) मंदसौर पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं। वह अपने कारों के काफिले को छोड़कर मोटर साइकिल से सचिन पायलट के साथ हाईवे को छोड़कर कच्चे रास्ते से मंदसौर के लिए निकल पड़े हैं। मंदसौर जिला प्रशासन द्वारा प्रवेश की अनुमति न दिए जाने के बाद राहुल अन्य नेताओं के साथ हवाई जहाज से उदयपुर पहुंचे और वहां से वाहनों के काफिले से निकले। राहुल ने मंदसौर के करीब पहुंचने से पहले अपने काफिले को छोड़कर मोटर साइकिल की सवारी की। मोटर साइकिल सचिन पायलट चला रहे हैं। ये दोनों नेता हाईवे को छोड़कर चेतकहेड़ी के कच्चे रास्ते से मंदसौर की ओर बढ़ रहे हैं।

कांग्रेस के प्रदेषाध्यक्ष अरुण यादव ने आईएएनएस को बताया, “राहुल हवाई जहाज से उदयपुर पहुंचे और उसके बाद उनकी नया गांव से होते हुए मंदसौर में प्रवेश करने की योजना थी। हालांकि, अंतिम समय में रणनीति में बदलाव किया गया। वह यहां उन किसान परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करने आ रहे हैं, जिनके सदस्य पुलिस की बर्बरता के शिकार हुए। वहीं, जिलाधिकारी स्वतंत्र कुमार सिंह ने बताया कि गांधी को मंदसौर में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी गई है।” पुलिस प्रशासन के अनुसार, राहुल गांधी के आने की सूचनाओं के मद्देनजर राजस्थान से मध्य प्रदेश को जोड़ने वाले मार्ग पर बैरीकेट लगा दिए गए हैं और पुलिस बल तैनात किया गया है। उल्लेखनीय है कि राहुल की बुधवार को इंदौर होते हुए मंदसौर जाने की योजना थी, मगर प्रशासन की ओर से अनुमति न मिलने के चलते उनका प्रवास निरस्त हो गया था। अब वह राजस्थान से होते हुए मंदसौर पहुंच रहे हैं। ज्ञात हो कि राज्य के किसान एक जून से आंदोलन कर रहे है। मालवा-निवाड़ अंचल में किसानों का आंदोलन उग्र बना हुआ है। मंगलवार को पुलिस द्वारा मंदसौर में चलाई गई गोली में पांच किसानों की मौत हो गई थी। इसके बाद बुधवार को आंदोलन की आग आसपास के नीचम, देवास आदि जिलों में भी फैल गई।