मोदीराज में अब रेलवे से 13 हजार कर्मचारियों की होने जा रही है छुट्टी !

नई दिल्ली। जो लंबे समय से अनाधिकृत छुट्टियों पर हैं और उनको नौकरी से निकालने के लिए अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू कर दी है। भारतीय रेलवे ने 13,000 से ज्यादा ऐसे कर्मचारियों की पहचान की है। रेलवे ने ऑर्गेनाइजेशन का प्रदर्शन बेहतर करने और ईमानदार व मेहनती कर्मचारियों का मनोबल बढ़ाने के लिए एक अभियान शुरू किया था। यह कार्रवाई इसी अभियान का हिस्सा है।

13 लाख कर्मचारियों में से 13 हजार की हुई पहचान –
रेलवे के बयान में कहा गया है कि रेलवे के विभिन्न प्रतिष्ठानों में लंबे समय से गैहाजिर कर्मचारियों की पहचान करने के लिए एक व्यापक अभियान शुरू किया गया। इस अभियान के परिणाम में रेलवे ने अपने लगभग 13 लाख कर्मचारियों में से 13 हजार से भी अधिक ऐसे कर्मचारियों की पहचान की है जो लंबे समय से गैरहाजिर हैं। रेलवे ने इन गैरहाजिर कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त करने के लिए नियमों के तहत अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू की है। रेलवे ने सभी अधिकारियों और पर्यवेक्षकों को उचित प्रक्रिया पर अमल के बाद कर्मचारियों की सूची से इनका नाम हटाने का निर्देश दिया है।