लखीमपुर खीरी में किसानों को मोदी सरकार के मंत्री के बेटे ने रौंदा, चार की मौत

लखनऊ | विधानसभा चुनाव से पहले किसान आंदोलन उग्र हो सकता है | मोदी के मंत्री के बेटे ने किसानो को गाड़ी से राउंड दिया जिसमे चार किसानो की मौत हो गयी है | लखीमपुर खीरी में रविवार को जमकर बवाल हुआ। आरोप है कि यहां तिकुनिया के बनवीर गांव में धरना दे रहे किसानों पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे आशीष मिश्र ने कार चढ़ा दी। इसमें चार किसानों की मौत हो गई हैं और कई घायल बताए जा रहे हैं। इनमें दो मृतक किसान बहराइच के हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए बताया जा रहा है कि मृतकों का आंकड़ा बढ़ भी सकता है। इसके बाद उग्र किसानों ने हंगामा शुरू कर दिया। बताया जा रहा है कि किसानों ने आशीष की गाड़ी में तोड़फोड़ कर उसे आग के हवाले कर दिया। किसानों की पिटाई में आशीष के ड्राइवर की मौत हो गई है, जबकि सांसद पुत्र गन्ने के खेतों से होते हुए जान बचाकर भाग गए। मौके पर कई थानों की फोर्स तैनात है।

यह है मामला-
रविवार को केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र के गांव बनवीर में कई योजनाओं के शिलान्यास का कार्यक्रम तय था। इसमें बतौर मुख्य अतिथि उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य शामिल हुए। बताया जा रहा है केशव मौर्य का हेलीकॉप्टर जिस हेलीपैड पर उतरना था, वहां सुबह से ही किसानों ने काले झंडे लेकर धरना शुरू कर दिया। काफी मनाने के बावजूद नहीं हट रहे थे। इस दौरान कई भाजपा के कार्यकर्ता भी पहुंच गए और हंगामा शुरू हो गया। आरोप है कि इसी बीच केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र के बेटे ने धरने पर बैठे किसानों पर कार चढ़ा दी। इसमें चार किसानों की मौत हो गई, जबकि कुछ अन्य किसान घायल हो गए। किसानों का आरोप है कि वह कृषि कानूनों के खिलाफ और गृह राज्य मंत्री की किसानों के प्रति की गई टिप्पणी से आहत थे। इसके विरोध में उन्होने काले झंडे दिखाकर विरोध प्रदर्शन करना तय किया था। इसलिए वह तिकुनिया कस्बे से थोड़ी दूर विद्युत उपकेंद्र के आगे बैरियर के पास खड़े थे, लेकिन उन्हें सूचना मिली थी कि सांसद के गांव बनवीरपुर जाने के लिए डिप्टी सीएम का मार्ग बदल गया है।

किसानों ने लगाए गंभीर आरोप
इसी दौरान खीरी सांसद अजय मिश्र टेनी के पुत्र आशीष मिश्रा उर्फ मोनू दो गाड़ियों से उसी रास्ते से निकले तो, किसानों ने उनकी गाड़ी को रोककर विरोध करने की कोशिश की। किसानों का आरोप है कि इस बीच सांसद पुत्र के ड्राइवर ने उन पर गाड़ी चढ़ा दी, जिससे कई किसान घायल हो गए। बाद में चार किसानों की मौत हो गई। एक मृतक किसान गुरविंदर सिंह पुत्र सुखविंदर सिंह बहराइच के मोहनिया गांव और दलजीत सिंह बंजारा टांडा गांव का रहने वाला था। वहीं, बजिंदर सिंह ग्राम बैरिया थाना निघासन गंभीर रूप से घायल हैं।