BSP सुप्रीमो मायावती की समीक्षा बैठक 3 जून को, कई नेताओं पर गिरेगी गाज

नई दिल्ली । लोकसभा चुनाव 2019 के चुनाव परिणाम के बाद अब मायावती पहली समीक्षा बैठक करने जा रही हैं । बसपा सुप्रीमो मायावती लोकसभा चुनाव के बाद पहली बैठक करने जा रही हैं। वह 3 जून को दिल्ली में बैठक करेंगी। इसमें नवनिर्वाचित सांसद, लोकसभा प्रत्याशी, जोन इंचार्जों के साथ जिलाध्यक्षों को भी बुलाया गया है। मायावती की यह बैठक कई मायने में अहम मानी जा रही है। रिपोर्ट के आधार पर कई नेताओं पर गाज गिरना तय है ।

बसपा प्रमुख लोकसभा चुनाव में गठबंधन को अपेक्षित सफलता न मिलने के कारणों की जहां समीक्षा करेंगी, वहीं भविष्य की राजनीति पर भी चर्चा करेंगी। बसपा के जिलाध्यक्षों, जोन इंचार्जों, नवनिर्वाचित सांसदों व लोकसभा प्रत्याशियों को 3 जून को दिल्ली स्थिति केंद्रीय पार्टी कार्यालय 11 गुरुद्वारा रकाबगंज रोड पर 10 बजे तक पहुंचने को कहा गया है। बसपा सुप्रीमो इस दौरान लोकसभा चुनाव में मिली सीटों और वोटिंग प्रतिशत की समीक्षा करेंगी। बसपा को लोकसभा चुनाव में 10 सीटें मिली हैं। उसका कुल वोटिंग प्रतिशत 19.26 रहा है। मायावती ने सीटवार ब्यौरा भी मांगा है। सूत्रों का कहना है कि मायावती इस दौरान पदाधिकारियों के साथ गठबंधन के भविष्य की संभावनाओं पर भी बातचीत कर सकती हैं।

मायावती 23 मई को मतगणना वाले दिन ही रात में दिल्ली चली गई थीं। इन दिनों वह दिल्ली में ही हैं। मायावती ने लोकसभा चुनाव का रुझान आने के तुरंत बाद बातचीत में ईवीएम को लेकर आपत्ति जताई थी। उन्होंने गठबंधन को मिली सीटों पर चिंता जताते हुए कहा था कि अपेक्षा से कम सीटें मिली हैं। मायावती इसके बाद दिल्ली से ही पदाधिकारियों को लगातार दिशा-निर्देश दे रही थीं।