BSP से जमीरउल्लाह निष्कासित, मुस्लिमो की आवाज उठाने पर मायावती ने दिखाया बाहर का रास्ता

अलीगढ़ । जिले की राजनीति में चर्चित नेता पूर्व विधायक जमीरउल्लाह खान को बहुजन समाज पार्ट से निष्कासित कर दिया गया है। बसपा सुप्रीमो मायावती के हवाले से जिलाध्यक्ष तिलकराज यादव ने पूर्व विधायक के निष्कासन की पुष्टि की है । माना जा रहा है कि हरदुआगंज में गत दिनों हुए दो मुस्लिम युवक़ों के एनकाउंटर की आवाज़ उठाना जमीरउल्लाह को भारी पड़ा है । बिना पार्टी लाइन के मुस्लिम युवकों के इंसाफ की बात करना जमीरउल्लाह के लिए भारी पड़ा है । बसपा से निष्कासन के बाद अब जिले में चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है ।

बसपा जिलाध्यक्ष तिलकराज यादव ने निष्कासन की पुष्टि करते हुए बतायब कि बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष बहन मायावती जी के निर्देश पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त रहने पर पूर्व विधायक जमीरउल्लाह को बसपा से निष्कासित किया गया है । उन्होंने कहा कि पार्टी लाइन के विरोधी जो भी काम करेगा उसे बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा ।

बताते चलें कि जमीरउल्लाह सपा से दो बार विधायक रहे हैं और एक वर्ष पूर्व ही बसपा में शामिल हुए थे ।