इमरान के इस्तीफे के लिए मौलाना अब देशभर में करेंगे प्रदर्शन

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के तेजतर्रार मौलाना और राजनीतिक नेता फजलुर्रहमान ने इस्लामाबाद में करीब दो सप्ताह चला सरकार विरोधी प्रदर्शन बुधवार को खत्म कर दिया। हालांकि उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान पर इस्तीफे का दबाव बढ़ाने के लिये अब पूरे देश में प्रदर्शन किया जाएगा।

जमीयत उलेमा-ए-इ्स्लाम (जेयूआई-एफ) के प्रमुख रहमान ने यहां आजादी मार्च को संबोधित करते हुए अपने समर्थकों से कहा कि अब प्रदर्शन की दूसरी योजना पर काम करने का समय है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को इस्तीफा देने के लिये मजबूर करने और नए चुनाव कराने के लिए प्रमुख राजमार्गों और सड़कों को अवरुद्ध कर प्रदर्शन किया जाएगा।

आजादी मार्च की दूसरी योजना के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि बृहस्पतिवार को दोपहर 2 बजे तक न केवल देश के प्रमुख राजमार्गों बल्कि सड़कों और गलियों में भी प्रदर्शन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार काफी कमजोर हो चुकी है और उसे उखाड़ने के लिए हल्का सा धक्का देने की जरूरत है। उन्होंने प्रदर्शनकारियों को अपने घरों में वापस जाने के लिए कहा।

रहमान ने कहा कि वे लेकिन आराम से न बैठें क्योंकि उन्हें अपने संबंधित क्षेत्रों में विरोध प्रदर्शन आयोजित करने का काम सौंपा गया है। जेयूआई-एफ ने प्रधानमंत्री इमरान खान पर 2018 के चुनाव में धांधली का आरोप लगाते हुए प्रधानमंत्री से इस्तीफा मांगा था। इसके लिये उसने 27 अक्टूबर को इस्लामाबाद में विरोध प्रदर्शन शुरु किया, जिसे विपक्षी दलों का समर्थन मिला।