अलीगढ़ में CM के एक तीर से कई निशाने, यूनिवर्सिटी से छात्रों को और राजा महेंद्र प्रताप के नाम से जाट समाज को साध गए योगी, 1135 करोड़ की दीं सौगात

अलीगढ़ । सूबे के सीएम योगी एक तीर से अलीगढ़ में कई निशाने कर गए । छात्रों और युवाओं की लंबे समय से चली आ रही मांग को मान लिया और यूनिवर्सिटी की घोषणा कर गए तो वहीं राजा महेंद्र प्रताप सिंह के नाम पर यूनिवर्सिटी से जाट समुदाय के वोट बैंक को भी साध गए । इगलास के उपचुनाव में भाजपा को इसका लाभ मिल सकता है । सीएम ने अलीगढ़ में 1135 करोड़ की लागत से 183 विकास कार्यों के लिए अलीगढ़ के लोगों को बधाई दी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यहां अपने कार्यकाल में पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह ने खूब काम किया है। जहां कही भी ताला होगा, वहां अलीगढ़ की छाप जरूरी होगी, लेकिन पिछली सरकार की उदासीनता से यहां उद्योग बंद होने लगे। वर्तमान यूपी सरकार का मकसद युवाओं को रोजगार देना है। पीएम ने डिफेंस कॉरिडोर की घोषणा की जिसमें अलीगढ़ शामिल है। मुख्यमंत्री ने कहा राजा महेंद्र प्रताप को कोई भूल नहीं सकता। उन्होंने एएमयू को जगह दी लेकिन एएमयू ने उनके साथ न्‍याय नहीं किया, एएमयू ने क्‍या किया यह दुनिया जानती है। प्रदेश सरकार अलीगढ़ में अगले साल महाराजा महेंद्र प्रताप के नाम से नई यूनिवर्सिटी बनाएगी। मुख्यमंत्री शनिवार को अलीगढ़ की तहसील इगलास के लाल बहादुर शास्त्री इंटर कॉलेज में सभा को संबोधित कर रहे थे।

पांच साल में तीस लाख बेरोजगारों को काम मिलेगा
मुख्यमंत्री ने कहा अलीेगढ़ के लोगों के पास कला है। अलीगढ़ बेहतरीन ढंग से आगे बढ़ेगा। पहले उत्तर प्रदेश में दंगे होते थे। हमने अपराध खत्म किया है। मुख्यमंत्री ने कहा अलीेगढ़ के लोगों के पास कला है। अलीगढ़ बेहतरीन ढंग से आगे बढ़ेगा। पहले उत्तर प्रदेश में दंगे होते थे। हमने अपराध खत्म किया है। देश पारदर्शी तरीके से देश आगे बढ़ रहा है। पांच साल में 30 लाख लोगों को काम दिया जाएगा। इस दौरान मुख्यमंत्री ने केंद्र व प्रदेश सरकार की योजनाओं को बखान किया।

18 हजार लाभार्थी हुए शामिल
सीएम की सभा में केंद्र व राज्य की योजनाओं के करीब 18 लाभार्थी शामिल हुए। इनके लिए 20 से अधिक ब्लॉक बनाए गए। हर ब्लॉक में 700 के करीब लाभार्थियों को बैठने की व्यवस्था की गई। इसके अलावा लाभार्थियों को लाने-ले जाने के लिए बसें लगाई गईं करीब दो दर्जन लाभार्थियों को सीएम खुद प्रमाण पत्र देंगे।

इन योजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास-
विभाग, काम, लागत
सेतु निगम, 02, 117.74
लोक निर्माण विभाग, 04, 13.24
चिकित्सा विभाग, 03, 4.14
पशु पालन, 01, 1.20
आरटीओ, 01, 5.02
डीआइओएस, 01, 2.77
जल निगम, 03, 255
स्मार्ट सिटी, 05, 448
नगर विकास, 01, 0.62

आरइडी, 43, 22.96
लघु सिंचाई, 13, 3.69
डीआरडीए, 69, 7.30
नगर निकाय, 37, 16.25
(नोट = काम की संख्या व लागत करोड़ में है )

लोकार्पण-
विभाग, काम, लागत
लोक निर्माण विभाग, 12, 54.00
सेतु निगम, 01, 31.40
प्राविधिक शिक्षा, 01, 1.83
पशु चिकित्सा, 04, 9.51
होम्योपैथिक, 01, 87.35
ग्राम्य विकास, 02, 6.09
पर्यटन, 02, 1.95
वन विभाग, 01, 1.19

नगर विकास, 05, 2.58
जिला पंचायत, 09, 2.65
आरईडी, 79, 15.94
नगर निकाय, 53, 11.21
(नोट = काम की संख्या व लागत करोड़ में है )