पाकिस्तानी नोबेल विजेता मलाला यूसुफजई ने ब्रिटेन में रचाई शादी, शेयर की निकाह की तस्वीरें

नई दिल्ली । मलाला यूसुफजई का जन्म पाकिस्तान में हुआ । नोबेल शांति पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई ने मंगलवार को पुष्टि की है कि वो अब एक विवाहित महिला हैं। उन्होंने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर अपने शौहर असर मलिक के साथ तस्वीरें पोस्ट कर निकाह होने की बात बताई।

मलाला ने ट्विटर पर तस्वीर साझा करने के साथ लिखा, “आज का दिन मेरे जीवन में एक अनमोल दिन है। असर और मैं जीवनभर के लिए भागीदार बनने के बंधन में बंध गए। हमने बर्मिंघम में अपने परिवारों के साथ घर पर एक छोटा सा निकाह समारोह मनाया।” मलाला आगे लिखती हैं कि कृपया अपनी हमें दुआएं दें। हम जीवन में एक साथ चलने के लिए उत्साहित हैं।

बायदें कि पाकिस्तान में लड़कियों की शिक्षा की हिमायत करने वाली मलाला यूसुफजई 2012 में जब स्कूल से घर लौट रही मलाला उसी वक़्त तालिबान आतंकियों ने हमला किया। उस वक्त उनकी उम्र 11 साल थी, लेकिन मलाला का हौंसला भी कम न था । ब्रिटेन में लंबे इलाज के बाद वह ठीक हुईं और एक बार फिर अपने अभियान में जुट गईं.

24 वर्षीय मलाला यूसुफजई लड़कियों की शिक्षा के लिए पाकिस्तान की सामाजिक कार्यकर्ता हैं और इतिहास में सबसे कम उम्र की नोबेल शांति पुरस्कार विजेता भी। वर्ष 2012 में उन्हें तब वैश्विक पहचान मिली जब लड़कियों के लिए शिक्षा के मूल अधिकार की वकालत करने के लिए उत्तर-पश्चिम पाकिस्तान में तालिबान द्वारा उन्हें गोली मारी गई थी। मलाला पर हमले के कारण पाकिस्तान ने अपना पहला शिक्षा का अधिकार विधेयक बनाया। वहीं, खुद पर हुए हमले और उसके बाद के हालात के बारे में मलाला ने एक पुस्तक भी प्रकाशित की, जिसका टाइटल था ‘आई एम मलाला’।

इतना ही नहीं मलाला यूसुफजई ने 16 साल की उम्र में संयुक्त राष्ट्र (यूएन) मुख्यालय में ‘शिक्षा में लैंगिक समानता’ विषय पर भाषण भी दिया है।