महिला विश्व कप में पाकिस्तान को हराने के बाद, लोग बोले- म्हारी छोरियां छोरों से कम हैं के?

इंग्लैंड में चल रहे महिला क्रिकेट विश्व में भारतीय टीम ने पाकिस्तान को 95 रनों से करारी मात दी। एकता बिष्ट ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 10 ओवरों में 18 रन देकर 5 विकेट झटके। वहीं झूलन गोस्वामी, हरमनप्रीत कौर और दिप्ती शर्मा को 1-1 विकेट मिला। मानसी जोशी ने 2 विकेट चटकाए। भारत की धारदार गेंदबाजी के आगे पाकिस्तान की पूरी टीम 38.1 ओवरों में 74 रनों पर सिमट गई। पाकिस्तान की ओर से सबसे ज्यादा 29 रन कप्तान सना मीर ने बनाए। उन्होंने 73 गेंदों का सामना किया और तीन चौके लगाए। आठवें नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरीं सना ने टीम को संभालने की थोड़ी कोशिश जरूर की, लेकिन वह जोशी की गेंद पर बोल्ड हो गईं। 74 रन पर 10वां विकेट गिरते ही भारत में खुशी की लहर दौड़ गई। लोगों ने अपने-अपने स्टाइल में भारतीय महिला टीम को मुबारकबाद दी। कई लोगों ने इसे चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में भारत को पाकिस्तान से मिली हार का बदला भी बताया। गौरतलब है कि  टूर्नामेंट में भारतीय टीम की यह लगातार तीसरी जीत है, जिसके साथ भारत अंकतालिका में शीर्ष पर पहुंच गई है। भारत की शुरुआत खराब और बेहद धीमी रही। टीम का स्कोर जब सात रन था तभी चौथे ओवर की तीसरी गेंद पर शानदार फॉर्म में चल रही मंधाना (2) पवेलियन लौट गईं। पूनम और दीप्ति ने हालांकि विकेट पर अपने पैर जमाए रखे, लेकिन रनों की गति को बढ़ा नहीं सकीं। दोनों ने 18.5 ओवरों में 3.55 की औसत से 67 रन जोड़े। अर्धशतक से तीन रन दूर पूनम को संधु ने अपना शिकार बनाया और यहां से भारत के विकेटों के गिरने की सिलसिला शुरू हुआ। कप्तान सिर्फ आठ रन ही बना सकीं।  अंत में सुषमा और झूलन ने सातवें विकेट के लिए 34 रनों की साझेदारी कर टीम को इस स्कोर तक पहुंचाने में मदद की। मानशी जोशी चार रन और पूनम यादव छह रन बनाकर नाबाद लौटीं। पाकिस्तान की तरफ से नसरा संधू ने सर्वाधिक चार विकेट लिए। सादिया युसूफ को दो सफलता मिली। डायना बेग और असमाविया इकबाल के हिस्से एक-एक विकेट आया।